दोस्तों के साथ गपशप करना पड़ा भारी, इधर कुआं तो उधर खाई

उत्तर प्रदेश के जनपद हापुड़ के पिलखुवा कोतवाली क्षेत्र में 7 दोस्तों को रेेलवे ट्रैक से होते हुए घर लौटना भारी पड़ गया। ट्रेन के इंजन की चपेट में आकर 7 दोस्तों में से 6 राहुुुल, विजय, आकाश, आरिफ, सलीम, समीर की मौत हो गई जबकि एक दोस्त मुकेश गंभीर रूप से घायल हो गया। बताया जा रहा है ट्रेन की चपेट में आने से 5 की मौके पर ही मौत हो गई थी व दो गंभीर रूप से घायल हो गए थे इस हादसे की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची रेलवे विभाग व पिलखुुुवा पुलिस ने घायलों को नजदीकी हॉस्पिटल में भर्ती कराया जहां दोनों घायलों में से राहुल की उपचार के दौरान मौत हो गई तो वहीं एक घायल की हालत अभी भी नाजुक बनी हुई है। वहीं पुलिस ने मृतक युवकों के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

बता दें यह सारा मामला जनपद हापुड़ के पिलखुवा कोतवाली क्षेत्र का है जहां यह सातों दोस्त अपने घर से हैदराबाद अपने काम पर जाने के लिए निकले थे लेकिन ट्रेन छूट जाने के कारण यह सातों दोस्त आपस में बात करते हुए रेलवे ट्रैक से होते हुए अपने घर लौट रहे थे। तभी पीछे से ट्रेन की आवाज सुनकर यह लोग दौड़कर दूसरे ट्रैक पर पहुंच गए तो वहां भी दूसरी तरफ से खाली ट्रेन का इंजन आ रहा था। सभी के लिए इधर कुआं तो उधर खाई वाली स्थिति हो गयी। जब तक सब होश सँभालते तब तक इंजन की चपेट में सातों दोस्त आ गए।

रेल इंजन के चपेट में आने से पांच दोस्तों की मौके पर मौत हो गई जबकि एक की अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गयी। अभी भी एक युवक की हालत गंभीर बनी हुई है। 6 युवकों को मौत की सूचना मिलते ही परिवार में कोहराम मच गया।

इस घटना से एक बड़ा सवाल यह भी उठता है कि लोगों का जीवन इतना कीमती है लेकिन फिर भी अपने जीवन के साथ इतने लापरवाह कैसे हो सकते हैं। जैसा कि आज की इस घटना से पता चलता है कि कैसे 6 लोगों अपनी लापरवाही के कारण जान से हाथ धोना पड़ा।

हम अपने चैनल के माध्यम से अपने वीवर्स को बताना चाहेंगे कि चाहें सड़क हो या रेलवे ट्रैक हमेशा दोनों तरफ देखकर ही पार करें। क्योंकि आपका जीवन अनमोल है। इसकी सुरक्षा करना भी आपकी अपनी ही जिम्मेदारी है।

शहर वासियों को होली की हार्दिक शुभकामनाएं, मून ब्रेकिंग

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*