बेसिक शिक्षा विभाग में व्याप्त भ्रष्टाचार के खिलाफ राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ तैयार की संघर्ष की रणनीति

आगरा। राष्ट्रीय शैक्षिक महसंघ आगरा की ज़िला कार्यकारिणी की बैठक ज़िलाध्यक्ष मुकेश डागुर की अध्यक्षता में डाइट परिसर आगरा में हुई। बैठक में बेसिक शिक्षा विभाग में व्याप्त भ्रष्टाचार के विरुद्ध संगठन द्वारा जारी संघर्ष की रणनीति पर चर्चा हुई। इस संघर्ष को और अधिक धार देने के लिए और इसे एक आंदोलन के रूप में बदलने पर निर्णय लिया गया, साथ ही बैठक में संगठन के विस्तार पर चर्चा हुई और ज़िला कार्यकारिणी का विस्तार किया गया।

बैठक में सभी ब्लॉक इकाईयों ने सदस्यता अभियान की प्रगति रिपोर्ट प्रस्तुत की। ब्लॉक कार्यकारिणी की बैठक में प्राप्त जिला स्तरीय समस्याओं से संबंधित प्रार्थना पत्र भी जिला कमिटी को उपलब्ध कराए गए। शिक्षकों की समस्याओं के त्वरित समाधान के लिये विशेषज्ञों के मध्य कार्य विभाजन और टीम RSM कोर ग्रुप का विस्तार किया गया।

बैठक में मुख्य अतिथि के रूप में आए संगठन के वरिष्ठ प्रदेश उपाध्यक्ष देवी सिंह नरवार ने नवीन पदाधिकारियों की घोषणा की जिसमें अर्चना भारती को ज़िला संगठन मंत्री, रानी परिहार को ज़िला मंत्री, हरेश चोहान को ज़िला उपाध्यक्ष, प्रियंका को ज़िला मंत्री, रामप्रकाश लवानिया को ज़िला मंत्री मनोनीत किया गया।

जैतपुर कला, सैयां, बरौली अहीर में ब्लॉक कार्यकारिणी के विधिवत गठन होने तक सांगठनिक गतिविधियों के सुचारू संचालन के लिये क्रमशः ज्ञानेंद्र सिंह, भवदीप त्यागी, उमेश यादव को ब्लॉक संयोजक/प्रभारी नामित किया गया।

बैठक में नेत्रपाल चोधरी, जिला महामंत्री अभय यादव , रमेश यादव, राजीव शर्मा, मनोज शर्मा, नरेश इंडोलिया, राकेश चाहर, योगेश हर्षाना, फलिराम गुर्जर, ब्रजेश, वीरेन्द्र चोंकर, राजीव रावत, नरेश चाहर, दिलावर सिंह, रविन्द्र, महेश गुर्जर, प्रदीप कटरा, नाज़िया खान, दिनेश शर्मा, संदीप चौधरी, नीरज यादव, लाल बहादुर सिंह, विवेकानंद आदि सैकडों की संख्या में शिक्षकों ने भाग लिया।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*