NSUI कार्यकर्ताओं ने लिखा खून से ख़त, राज्यपाल के समक्ष रखी ये 10 मांग

आगरा। डॉ भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय में छात्रों की समस्याओं को लेकर एनएसयूआई के कार्यकर्ता पिछले 9 दिनों से अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे हुए हैं। 9 दिन बीत जाने के बाद भी विश्वविद्यालय अधिकारियों ने ना तो छात्रों की समस्याओं पर कोई संज्ञान लिया और ना ही एनएसयूआई के छात्र नेताओं से बातचीत कर समाधान निकालने की कोशिश की जिसके चलते मंगलवार को एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने अपना आक्रोश व्यक्त करते हुए राज्यपाल के नाम खून से खत लिखा है।

एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं ने राजपाल को खून से लिखे खत में अपने 10 सूत्रीय मांग रखी हैं जिसमें उन्होंने प्रमुख रुप से साईं नाथ कॉलेज में हुई मेडिकल छात्रों की परीक्षा का मामला भी उठाया है। एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने बताया कि पिछले 9 दिन से अनिश्चितकालीन धरने पर बैठने के दौरान किसी भी विश्वविद्यालय अधिकारी ने सुनवाई करने की कोशिश नहीं की। कुलपति और कुलसचिव से एनएसयूआई कार्यकर्ताओं की एक एक बार वार्ता हुई लेकिन वह सफल नहीं हुई।

एनएसयूआई के पूर्व जिलाध्यक्ष दीपक शर्मा ने आरोप लगाया कि आगरा विश्वविद्यालय के कुलपति और कुलसचिव दोनों ही अपना तानाशाही रवैया अपना रहे हैं जिसके चलते हजारों छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ हो रहा है।

इस बाबत जब विश्वविद्यालय अधिकारियों से बात की गई तो उनका कहना था कि उन्होंने कई बार एनएसयूआई कार्यकर्ताओं से बातचीत कर समाधान के विकल्प बात रखी लेकिन एनएसयूआई के पदाधिकारी खुद उनसे बात नहीं करना चाह रहे।

बहरहाल अब देखने वाली बात होगी कि आखिर कब तक छात्र नेताओं को विश्वविद्यालय में अपनी मांगे मनवाने के लिए धरना देना होगा।

About admin 5927 Articles
मून ब्रेकिंग एक ऐसा न्यूज़ चैनल है जिसकी कोशिश हर ख़बर या घटना की जानकारी पूरी सत्यता के साथ और जल्द से जल्द आप तक पहुँचाने की है। मून ब्रेकिंग की शुरुआत सितम्बर 2017 से हुई है। मून ब्रेकिंग आपको नेट के जरिये देश-दुनिया, क्राइम, राजनीति, लाइफस्टाइल और मनोरंजन आदि से जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध करायेगा। साथ ही किसी घटना पर प्रतिक्रिया देने या आपकी आवाज़ बुलंद करने के लिए मून ब्रेकिंग एक साझा मंच भी प्रदान करता है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*