कैंट स्टेशन से पकड़े गए 6 अपराधी, शातिर सतीश के ख़िलाफ़ पुलिस कसेगी शिकंजा, जाने क्यों

आगरा। नाबालिग की उम्र में जुर्म की दुनिया में कदम रखने वाला सतीश उर्फ सत्तो अब शातिर अपराधी बन चुका है। चलती ट्रेनों में लूटपाट और चोरी की वारदात को अंजाम देना अब उसके लिए आम बात हो चली है। सतीश के खिलाफ आधा दर्जन से अधिक मुकदमे दर्ज हैं। अब जीआरपी सतीश पर पूरी तरह से शिकंजा कसने के लिए उसकी एच एस खुलवाने जा रही है। यह कहना है जीआरपी आगरा कैंट इंस्पेक्टर विजय चक का।

ट्रेनों में अपराधिक वारदातों को अंजाम देने वाले शातिर अपराधियों की धरपकड़ में जीआरपी आगरा कैंट को रविवार सुबह बड़ी सफलता हाथ लगी। जीआरपी आगरा कैंट ने आरपीएफ के साथ संयुक्त चेकिंग के दौरान कैंट स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर 4/5 से 6 शातिर अपराधियों को पकड़ा है जो चलती ट्रेनों में चोरी और लूटपाट की वारदात को अंजाम देते थे। जीआरपी आगरा कैंट ने शातिर अपराधियों से 14 मोबाइल, 5 चाकू और ₹4000 की नकदी बरामद की है। सभी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई कर जेल भेज दिया है।

जीआरपी इंस्पेक्टर विजय चक ने बताया कि 6 अपराधियों में सतीश शातिर अपराधी है। नाबालिग उम्र में ही इसने जुर्म की दुनिया में कदम रख दिया था। 2013 में इसने पहली वारदात को अंजाम दिया था। चलती ट्रेन से एक रेल यात्री का मोबाइल छीना था जिसमें वो रेलयात्री गिर गया और उसकेे पैर कट गए थे। उस अपराध में सतीश जेल भी गया था। अब इस शातिर अपराधी सतीश के खिलाफ उसके अपराधिक वारदातों के रिकॉर्ड एकत्रित करके उसकी एच एस खुलवाई जाएगी जिससे सतीश पर शिकंजा कसा जा सके।

About admin 2018 Articles
मून ब्रेकिंग एक ऐसा न्यूज़ चैनल है जिसकी कोशिश हर ख़बर या घटना की जानकारी पूरी सत्यता के साथ और जल्द से जल्द आप तक पहुँचाने की है। मून ब्रेकिंग की शुरुआत सितम्बर 2017 से हुई है। मून ब्रेकिंग आपको नेट के जरिये देश-दुनिया, क्राइम, राजनीति, लाइफस्टाइल और मनोरंजन आदि से जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध करायेगा। साथ ही किसी घटना पर प्रतिक्रिया देने या आपकी आवाज़ बुलंद करने के लिए मून ब्रेकिंग एक साझा मंच भी प्रदान करता है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*