गधे को पंजीरी खाते देख सेंट जोन्स कॉलेज के बाहर लग गयी भीड़

आगरा। वाह भाई वाह, यह सेंट जोंस कॉलेज के बाहर गधे पंजीरी खा रहे हैं, जो योग्य हैं उन्हें सिस्टम से बाहर कर दिया गया है, यह कहना है अधिवकता व पूर्व छात्र नेता मदन मोहन शर्मा का जो सेंट जोंस कॉलेज में प्राचार्य पद पर हुई नियुक्ति के खिलाफ आंदोलन छेड़े हुए है।

सेंट जोन्स कॉलेज के प्राचार्य डॉ पीई जोजफ की नियुक्ति अवैध साबित होने के बाद भी उन्हें पद से न हटाये जाने के विरोध में पूर्व छात्र नेता मदनमोहन शर्मा कॉलेज के गेट पर क्रमिक अनशन कर रहे है। शुक्रवार को क्रमिक अनशन के 11 वें दिन लोगों ने गधे को पंजीरी खिलाकर अपना विरोध प्रदर्शन जारी रखा। इस अनोखे विरोध प्रदर्शन को देखने के लिए कॉलेज के गेट पर भीड लग गई। अनशन पर बैठे लोगों ने गधे को चारों ओर घुमाया ओर फिर उसे पंजीरी खिलाने लगे।

पूर्व छात्र नेता महन मोहन शर्मा ने कहा कि सेंट जोंस कॉलेज के प्राचार्य डॉ पीई जोजफ अयोग्य हैं, यह जांच में साबित हो चुका है, इसके बाद भी उन्हें विवि प्रशासन और प्रबंध समिति ने पद से नहीं हटा रही है। जबकि उच्च शिक्षा अधिकारी की जांच में यह स्पष्ट हो चुका है कि सेंट जोंस डिग्री कॉलेज के डॉ पीई जोजफ फर्जी दस्तावेज से प्राचार्य बन गए हैं। डॉ आंबेडकर विवि के कुलपति और कुलसचिव को प्राचार्य डॉ पीई जोजफ को हटाने के आदेश दिए हैं लेकिन उन्हें भ्रष्ट तंत्र बचाने में लगा हुआ है।

पूर्व छात्रनेता मदनमोहन शर्मा का कहना है कि प्राचार्य को पद से न हटाए जाने तक अनशन जारी रहेगा। क्रमिक अनशन पर मुख्य रूप से विवेक शर्मा एडवोकेट, लल्लन वर्मा, शोभित भार्गव, आशुतोष राजपूत, प्रदीप यादव, विपुल पंडित, विशपाल यादव, विकास तिवारी मौजूद रहे।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*