लापरवाही के साथ मानवता के साथ खिलवाड़ कर रहा है स्वास्थ्य विभाग

लखीमपुर खीरी। स्वास्थ्य विभाग की कार्यशैली के बदलाव को सूबे के मुखिया कितना भी प्रयास करे लेकिन सरकारी अस्पतालों में कुछ भी बदलाव देखने को नही मिलता है। ऐसा ही कुछ नजारा लखीमपुर खीरी के सरकारी अस्पताल में देखने को मिला। इलाज के दौरान एक गरीब परिवार के बच्चे ने दम तोड़ दिया। बच्चे की मौत के बाद सरकारी अस्पताल के चिकित्सकों ने बच्चे के परिजनों को बच्चे का शव ले जाने के लिए कह दिया लेकिन सरकारी एम्बुलेन्स का इंतजाम तक नहीं कराया।

एक माँ अपने मृत बच्चे के शव को गोद मे लेकर रोती रही बिलखती रही और अस्पताल के चिकित्सकों से एम्बुलेन्स उपलब्ध कराने की मांग करती रही लेकिन किसी का दिल नही पसीजा। एक माँ को अपने बच्चे के शव के साथ रोता बिलखता देखकर कुछ लोगो ने उसकी मदद के लिए कदम बढ़ाए। लोगों ने आपस मे चंदा किया और प्राइवेट एम्बुलेंस में शव को ले जाने में मदद की।

बताते चलें कि लखीमपुर खीरी जिले में वायरल बुखार तेजी से फैल रहा है। मृत बच्चे को भी वायरल बुखार आया था जहाँ इलाज के दौरान उसकी मौत हो गयी। मृत बच्चे की माँ का कहना था कि घंटो से वो एम्बुलेंस के लिए अस्पताल के बाहर बैठी है लेकिन एम्बुलेंस नही मिली। कुछ मददगारों ने चंदा कर उसकी मदद की है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*