पुलिस का अमानवीय चेहरा, 20 दिन से थाने की छत पर रखा है कंकाल

आगरा। एत्मादपुर के सतौली निवासी 42 वर्षीय चंद्रपाल का शव 17 अक्टूबर को लापता होने के बाद 22 अक्टूबर की रात को बरामद हुआ था पुलिस ने कंकाल में बदल चुके शव को डीएनए की जांच के लिए थाने की छत पर रख दिया। लेकिन अवशेष को लैब भेजने की पुलिस को फुर्सत नहीं मिली है। युवक का कंकाल में बदल चुका शब 20 दिन से थाने की छत पर पडा है।

यह पुलिस का अमानवीय चेहरा है या के बाद एक कंकाल बरामद हुआ डीएनए जांच की इंतजार में 20 दिन से मजदूर का कंकाल थाने की छत पर रखा है। परिजन थाने के चक्कर लगा रहे हैं लेकिन पुलिस को फुर्सत नहीं है इसलिए न डीएनए जांच को सैंपल भेजा और ना परिजनों को अंतिम संस्कार के लिए शव को सौंपा।

आपको बताते चलें की एत्मादपुर के सतौली निवासी 42 वर्षीय चंद्र पाल पुत्र कर्ण सिंह 17 अक्टूबर को घर से लापता हो गया था परिजनों द्वारा मुकदमा दर्ज कराए जाने के बाद पुलिस ने शक के आधार पर अशोक दिवाकर को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया था तब जाकर 22 अक्टूबर की रात को घर से करीब 200 मीटर की दूरी पर कूड़े के ढेर में गड़ा हुआ कंकाल मिला था। जांच में अशोक और चंद्र पाल की पत्नी अनीता को पुलिस ने जेल भेज कंकाल का पोस्टमार्टम कराया। डॉक्टरों ने कंकाल को सील कर पुलिस को सौंप दिया।

परिजनों ने पुलिस से अंतिम संस्कार करने के लिए सब मांगा लेकिन पुलिस ने नहीं दिया तब से परिजन थाने और सीओ कार्यालय के चक्कर लगा रहे हैं लेकिन रोज आजकल करके उन्हें टाल दिया जाता है चंद्रपाल के भाई पूरन चंद का कहना है कि पुलिस डीएनए जांच के नाम पर कंकाल को थाने की छत पर डाले हैं उसमें ताला भी नहीं लगाया जाता 20 दिन से पुलिस सैंपल तक नहीं ले पाई है।

वहीं इस प्रकरण में जब एसपी पश्चिम डॉ अखिलेश नारायण से बात की गई तो उनका कहना था कि पूरे प्रकरण की जांच कराई जाएगी जिसकी लापरवाही पाई जाएगी उसके खिलाफ कार्यवाही होगी।

पुलिस के उच्च अधिकारी जांच की बात तो कह रहे हैं लेकिन चंद्रपाल के भाई पूर्ण ने बताया है कि वह सब के मिलने के बाद उसकी डीएनए जांच को भेजने के लिए थानाध्यक्ष एत्मादपुर से और सीओ एत्मादपुर से भी मिले थे लेकिन थानाध्यक्ष एत्मादपुर ने कहा था कि जांच का मामला हमारा है हम अपने हिसाब से भेज देंगे। इसके बाद भी जब सबको नहीं भेजा गया तो वे सी ओ एत्मादपुर के पास पहुंचे तो सीओ ने इंस्पेक्टर को कॉल कर कहा कि कंकाल को डीएनए की जांच के लिए जल्द भेज दो इसके लिए थानाध्यक्ष ने 2 दिन का समय मांगा लेकिन फिर भी अभी तक सबको डीएनए जांच के लिए नहीं भेजा गया।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*