Home आगरा शर्मसार : सास ने ही अपनी बहू का करवा दिया बलात्कार, घरवाले भी चुप

शर्मसार : सास ने ही अपनी बहू का करवा दिया बलात्कार, घरवाले भी चुप

by admin
Shame: Mother-in-law got her daughter-in-law raped, family members also silent

Agra. आपने अक्सर बलात्कार के मामले सुने होंगे लेकिन आपने ऐसा केस नहीं सुना होगा कि किसी सास ने बच्चे पैदा करवाने के लिए अपनी बहू का ही बलात्कार करवा दिया हो। ऐसा ही एक मामला सामने आया है। पीड़िता ने एसएसपी कार्यालय पहुंच न्याय की गुहार लगाई। पीड़ित मीना (बदला हुआ नाम) का आरोप है कि पति से बच्चे पैदा न होने पर सास द्वारा देवर और जेठ से बलात्कार करवा दिया गया जिससे बच्चा हो सके। पीड़िता का आरोप है कि इस काम में पति की सहमति है और उसके मां बाप भी उसकी मदद नहीं कर रहे हैं।

जानकारी के मुताबिक शमशाबाद कस्बा के एक गांव निवासी मीना बचपन से अपनी मौसी के यहां न्यू आगरा क्षेत्र में रहती थी। 5 साल पहले 5 जुलाई 2016 को उसकी शादी शमशाबाद के रहने वाले युवक से हुई थी। बाद में पीड़िता की छोटी बहन की शादी उसके देवर से करवा दी गयी। पीड़िता के अनुसार शादी के बाद बहन को बेटा पैदा हो गया लेकिन उसके कोई औलाद नहीं हुई।

बच्चे के लिए करवाया बलात्कार

पीड़िता का आरोप है कि उसके सास- ससुर ने कहा कि मंझले से बच्चा पैदा नहीं हो रहा है तो किसी और से तो होगा। इसके बाद दोनों देवर-जेठ ने उसके साथ जबरन संबंध बनाना शुरू कर दिया। बीते 1 साल से उसके साथ ऐसा हो रहा है।

पति ने कहा – ‘बच्चा तो चाहिए’

पीड़िता के अनुसार जब उसने अपने पति को बलात्कार की जानकारी दी तो उसने कहा कि बच्चा तो चाहिए, क्या हो गया जो उन्होंने मदद कर दी तो? इसके बाद जब मां और पिता को घटना से अवगत कराया तो उन्होंने भी कोई मदद न करते हुए चुप रहने को कह दिया। पति काम के बहाने कई – कई दिन घर नहीं आता है और जेठ और देवर उसका शारीरिक शोषण करते रहते हैं।

छुप कर रहने को मजबूर

पीड़िता ने बताया कि 22 जून को मैं ससुराल से भाग आई हूं और छुप कर रह रही हूं। इस पर ससुरालीजन मेरी मौसी को साजिशन पुलिस केस में फंसाने के प्रयास कर रहे हैं। मैं अपनी मर्जी से ससुराल छोड़ कर आयी हूं। परेशान होकर वकील के साथ एसएसपी कार्यालय पर मदद मांगने आयी हूं।

एसएसपी कार्यालय से पीड़िता को कार्रवाई का आश्वासन मिला है। एसएसपी प्रभाकर चौधरी ने थाना शमशाबाद पुलिस को मामले की जांच करके विधिक कार्रवाई के निर्देश दिये हैं।

Related Articles

Leave a Comment

%d bloggers like this: