नगर पंचायत फतेहाबाद का कारनामा, बिना शौचालय बनाए ही घोषित कर दिया ओडीएफ

आगरा। प्रदेश को खुले में शौच मुक्त बनाने के लिए सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दो अक्टूबर तक ग्रामीण और कस्बे क्षेत्र के हर घर में शौचालय बनाकर ओडीएफ घोषित किये जाने के निर्देश दिए है लेकिन नगर पंचायत फतेहाबाद की कार्यप्रणाली इससे विपरीत दिखाई दे रही है। कस्बे के किसी भी वार्ड में एक भी शौचालय का निर्माण पूरा नहीं हो हुआ है। नगर पंचायत अध्यक्ष और अधिशाषी अधिकारी ने अखबारों में विज्ञप्ति छपवाकर कस्बे को पूरी तरह ओडीएफ घोषित कर दिया है।

फतेहाबाद के ओडीएफ घोषित होने की जांच पड़ताल करने के लिए कस्बे की बस्तियों में जाकर देखा तो एक भी बस्ती ऐसी नहीं मिली जिसमें एक भी शौचालय का निर्माण पूरा हुआ हो। नगर पंचायत के पास मोहल्ला अर्जुन नगर में शौचालय अधूरे पड़े है।

बस्ती में रहने वाले रूपसिंह ने बताया कि 2 साल पहले एक क़िस्त चार हज़ार की आयी थी इसमें शौचालय का टैंक तो बन गया लेकिन बाकी पैसा न मिलने से शौचालय का अधूरा निर्माण कार्य पूरा नही हो सका।

फतेहाबाद के अधिकतर मोहल्लों और कस्बे में यही स्थिति है। नगर पंचायत अध्यक्ष का कहना है कि हर बस्ती में शौचालय बनवा दिए गए है। पूर्व पार्षद नीरज चक का कहना है कि नगर पंचायत द्वारा कस्बे को ओडीएफ घोषित कर दिया है जबकि कस्बे के एक भी वार्ड में पूरी तरह शौचालय नही बने है। नीरज चक ने कहा कि हम इस मामले को जिलाधिकारी और मुख्यविकास अधिकारी के पास लेकर जाएंगे औऱ इसकी जांच कराएंगे।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*