अपहृत अधिवक्ता अकरम अंसारी अपहरणकर्ताओं के चंगुल से मुक्त, 6 गिरफ़्तार

आगरा। 3 फरवरी से अपहृत फिरोजाबाद के अधिवक्ता अकरम अंसारी को सोमवार की रात पुलिस ने मुक्त करा लिया है। मौके से 6 बदमाशों को भी गिरफ्तार किया गया है। फिरौती की रकम भी सुरक्षित रखी गई है। एसएसपी बबलू कुमार ने प्रेसवार्ता कर इस पूरे मामले का खुलासा किया और किस तरह से अधिवक्ता को सकुशल बरामद किया गया इसकी जानकारी दी।अधिवक्ता अकरम की सकुशल बरामदगी होने के बाद उनके परिजन खुशी से फूले नहीं समा रहे हैं तो वहीं अधिवक्ताओं में खुशी की लहर है। सभी आगरा पुलिस को इस गुड वर्क के लिए धन्यवाद भी दे रहे हैं।

बताते चलें कि 3 फरवरी को फ़िरोज़ाबाद निवासी अधिवक्ता अकरम अंसारी थाना सिकंदरा क्षेत्र में अपने किसी रिश्तेदार के यहां आए थे, लौटते समय उनका अपहरण हुआ था। अपहरणकर्ताओं की ओर से 55 लाख की फिरौती मांगी गई थी। 14 दिन तक पुलिस की 20 टीमें उन्हें खोजने में लगी हुई थी वहीं दूसरी ओर अधिवक्ता अकरम का कोई सुराग ना लग पाने पर परिजनों और अधिवक्ताओं में काफी आक्रोश था जिसे लेकर सड़क पर उतर कर धरना प्रदर्शन और आंदोलन तक किए गए थे।

पुलिस ने अपहरण कर्ताओं से अधिवक्ता को छुड़ाने के लिए एक योजना बनाई। इस योजना के मुताबिक सोमवार को अधिवक्ता के परिजन फिरौती की रकम देने धौलपुर पहुंचे थे, उनके साथ पुलिस के जांबाज सिपाही रिश्तेदार के रूप में पहले से ही मौजूद थे। जैसे ही बदमाश फिरौती की रकम लेने को पहुंचे, पुलिस ने उन्हें चारों ओर से घेर लिया। अधिवक्ता अकरम अंसारी को बदमाशों से छुड़ाया और फिरौती की रकम भी सुरक्षित वापस रख ली।

जानकारी के मुताबिक इस दौरान पुलिस और बदमाशों की लगभग 1 घंटे तक मुठभेड़ चली जिसके बाद पुलिस ने राजस्थान निवासी सुरेंद्र गुर्जर सहित छह लोगों को गिरफ्तार किया है।

About admin 3490 Articles
मून ब्रेकिंग एक ऐसा न्यूज़ चैनल है जिसकी कोशिश हर ख़बर या घटना की जानकारी पूरी सत्यता के साथ और जल्द से जल्द आप तक पहुँचाने की है। मून ब्रेकिंग की शुरुआत सितम्बर 2017 से हुई है। मून ब्रेकिंग आपको नेट के जरिये देश-दुनिया, क्राइम, राजनीति, लाइफस्टाइल और मनोरंजन आदि से जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध करायेगा। साथ ही किसी घटना पर प्रतिक्रिया देने या आपकी आवाज़ बुलंद करने के लिए मून ब्रेकिंग एक साझा मंच भी प्रदान करता है।