अतिक्रमण अभियान – दुकानदारों ने नगर निगम और ADA पर लगाया पक्षपात का आरोप

आगरा। ताजनगरी को जाम मुक्त करने के लिए नगर निगम और आगरा विकास प्राधिकरण द्वारा बोदला चौराहे पर चलाए गए अतिक्रमण अभियान से नाराज लोगों ने दुकानें बंद कर अपना आक्रोश जताया और नगर निगम पर पक्षपात का आरोप भी लगाया। व्यापारियों के आक्रोश की खबर मिलते ही शहर के महापौर नवीन जैन भी दुकानदारों से मुलाकात करने पहुंचे। व्यापारी से बातचीत के बाद महापौर का कहना था कि अभियान के दौरान अपनों को छोड़ा गया जबकि दूसरों पर कार्यवाही की गई, जो ठीक नहीं है। पक्षपातपूर्ण इस कार्यवाही से नाराज महापौर ने व्यापारियों को उचित कार्यवाही का भरोसा दिया और दोषी लोगों पर कार्यवाही की बात कही। 

इतना ही नहीं शहर के महापौर नवीन जैन ने इलाकाई पुलिस पर भी पैसा लेकर अतिक्रमण कराने का आरोप लगाया। महापौर का कहना था कि चौकी इंचार्ज से लेकर थाना प्रभारी तक महीने दारी लेकर अतिक्रमण को बढ़ावा दे रहे हैं, जिसकी शिकायत पुलिस कप्तान से की जाएगी और दोषी पुलिसकर्मियों पर कार्यवाही के लिए दबाव बनाया जाएगा ताकि अतिक्रमण को रोका जा सके।

बाजार कमेटी के महामंत्री सुधीर गोयल का कहना था कि नगर निगम और आगरा विकास प्राधिकरण ने नालों की सीमा के बाद हुई दुकानों को अवैध रूप से तोड़ा जबकि वह अतिक्रमण की श्रेणी में नहीं आती। दुकानदार अतिक्रमण का विरोध करते हैं और इसके पक्ष में नहीं है लेकिन चहेतों को छोड़ना विभाग की मंशा पर सवाल खड़े करता है जिसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*