Home विविध छावनी परिषद के खिलाफ मोटर कार मैकेनिक एसोसिएशन का प्रदर्शन, इच्छा मृत्यु की उठाई मांग

छावनी परिषद के खिलाफ मोटर कार मैकेनिक एसोसिएशन का प्रदर्शन, इच्छा मृत्यु की उठाई मांग

by admin
Agra. Motor Car Mechanic Association took out a procession and demonstrated against the Cantonment Council, through this procession the Motor Car Mechanic expressed their indignation against the promise of the Cantonment Board.
Spread the love

Agra. मोटर कार मकैनिक एसोसिएशन की ओर से छावनी परिषद के खिलाफ जुलूस निकालकर प्रदर्शन किया गया। इस जुलूस के माध्यम से मोटर कार मैकेनिको ने छावनी परिषद के वायदा खिलाफी के खिलाफ अपना आक्रोश व्यक्त किया तो वहीं राष्ट्रपति महोदय से इच्छा मृत्यु की मांग की।

लगभग 7 महीने पहले छावनी परिषद की ओर से भूमि संख्या 131/400 माल रोड प्रताप पुरा को खाली करा दिया गया है। इस भूमि पर मोटर कार मकैनिकों के गैराज थे और वह गैराज चला कर अपने परिवार का भरण पोषण कर रहे थे लेकिन छावनी परिषद की कार्यवाही ने लगभग 30 मोटर कार मैकेनिकों बेरोजगार कर दिया है, जिससे उनके परिवार की आर्थिक स्थिति भी खराब हो चुकी है।

Agra. Motor Car Mechanic Association took out a procession and demonstrated against the Cantonment Council, through this procession the Motor Car Mechanic expressed their indignation against the promise of the Cantonment Board.

प्रदर्शन कर रहे नौशाद उस्मानी ने बताया कि 7 महीने पहले छावनी परिषद के अधिकारियों ने उन्हें बुलाकर वार्ता की थी और बताया था कि 13/400 भूमि संख्या को आपको खाली करना होगा। यहां पर छावनी परिषद की ओर से बड़ा प्रोजेक्ट शुरू किया जा रहा है , लेकिन आपकी जगह खाली करने पर आपकी गैराज के लिए दूसरी जगह जमीन दे दी जाएगी। छावनी परिषद की ओर से दूसरी जगह जमीन दिए जाने पर सभी गैराज मैकेनिको ने भूमि खाली करने के लिए सहमति जता दी और भूमि को खाली भी कर दिया। लेकिन पिछले 7 महीनों से वे छावनी परिषद के चक्कर लगा रहे हैं कि छावनी परिषद उन्हें गैराज खोलने के लिए दूसरे स्थान पर जगह आवंटित कर दें।लेकिन छावनी परिषद के अधिकारी इस ओर कोई ध्यान नहीं दे रहे हैं।7 महीनों से गैराज बंद होने से सभी मकैनिक बेरोजगार बैठे हैं और प्रतिदिन उनकी आर्थिक स्थिति भी खराब हो रही है।

छावनी परिषद के वायदा खिलाफी के विरोध में जुलूस निकालकर प्रदर्शन किया गया है और राष्ट्रपति महोदय से मांग की गई है कि अगर छावनी परिषद गैराज खोलने के लिए दूसरी जगह जमीन आवंटित नहीं कर सकता तो उन्हे इच्छा मृत्यु दे दी जाए।

Related Articles