दलित युवती से दुराचार की कोशिश, 5 जूते मारकर मामला रफ़ा दफा

आगरा। दलितों के साथ अत्याचार रुकने का नाम नहीं ले रहै है। सरकार कितने भी प्रयास करे लेकिन दबंग अपनी खुद सरकार चलाते हैं। वे अपने आगे शासन-प्रशासन सब को बोना मानते हैं। ऐसे दबंगों के खिलाफ गरीब तो आवाज ही नहीं उठा पाते लेकिन कई बार प्रशासन भी ऐसे दबंगो का साथ देकर गरीब या पीड़ितों का उत्पीड़न करते रहते हैं। उनके खिलाफ कोई कार्यवाही ना होने के कारण उनके हौसले हमेशा बुलंद रहते हैं।

ऐसा ही एक मामला थाना बरहन के ऑवलखेड़ा में सामने आया हैं। सूत्रों के अनुसार आज सुबह वाल्मीक समाज की नाबालिग लड़की घर से कूड़ा डालने के लिए पास के ही खेत में गई थी। वहां पहले से ही घात लगाए बैठा ऑवलखेड़ा के ही निवासी युवक ने लड़की को जबरन पकड़ लिया। जब लड़की ने विरोध किया तो उसको मारा पीटा। लड़की की आवाज सुनकर आसपास और घर वाले लोग मौके पर पहुंच गए लेकिन मौका पाते ही आरोपी भाग निकला।

जब मामला तूल पकड़ता दिखाई दिया तो आरोपी के भाई ने आरोपी को साथ ले जाकर सभी के सामने पांच जूते मार कर माफी मांगी और मामले को वहीं रफा-दफा करने की बात कही लेकिन वाल्मीक समाज के कुछ लोगों ने विरोध किया। पीड़ित परिवार गरीब होने के कारण दबंगों के आगे झुक गया और थाने तक नहीं जाने दिया।

आरोपी इतना दबंग है कि दबंगई के चलते कोई आवाज नहीं उठाता और गरीब डर के चुपचाप बैठ जाते हैं। जब इस सम्बंध में थाना पुलिस से संपर्क की कोशिश गई लेकिन नेटवर्क समस्या के चलते बात नही हो पाई।

बताते चलें कि ऐसा ही एक मामला 1 वर्ष पहले थाना क्षेत्र के नयाबास में भी हुआ था। दुराचार के आरोपी में पंचो के द्वारा 5 जूता मार कर फैसला कर मामले को रफा-दफा करा दिया था। मामला महिला आयोग तक पहुंच जाने के कारण पंचायत पर भी मुकदमा कायम किया गया था।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*