Home देश-विदेश यहां पर 2 साल से ऊपर के बच्चों को कोरोना वैक्सीन ‘ZyCov-D’ लगना हुई शुरू, WHO से नहीं मिली है मान्यता

यहां पर 2 साल से ऊपर के बच्चों को कोरोना वैक्सीन ‘ZyCov-D’ लगना हुई शुरू, WHO से नहीं मिली है मान्यता

by admin
Corona vaccine 'ZyCov-D' started for children above 2 years here, WHO has not received recognition
Spread the love

बच्चों के लिए खतरनाक मानी जा रही कोरोना की संभावित तीसरी लहर को ध्यान में रखते हुए कई देशों में तैयार हो रही कोरोना वैक्सीन के बीच क्यूबा देश ने एक नई उपलब्धि हासिल की है। क्यूबा दुनिया का पहला ऐसा देश बन गया है जिसने 2 साल के ऊपर के बच्चों को कोरोना वैक्सीन लगानी शुरू कर दी है। बच्चों को लगाए जाने वाली यह वैक्सीन क्यूबा देश में ही तैयार की गई है। हालांकि इसे वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (WHO) से मान्यता नहीं मिली है।

Corona vaccine 'ZyCov-D' started for children above 2 years here, WHO has not received recognition

न्यूज़ एजेंसी एएफ़पी (AFP) के मुताबिक क्यूबा में अब्दला और सोबराना नाम के कोरोना वैक्सीन लगाई जा रही है। बच्चों पर इनका क्लीनिकल ट्रायल पूरा हो चुका है। शुरुआत में 12 साल या इससे ऊपर के बच्चों को कोरोना का टीका दिया गया था और बीते सोमवार से 2 साल से लेकर 11 साल तक के बच्चों को कोरोना वैक्सीन लगाने की शुरुआत हो गई है। फिलहाल कि क्यूबा देश के सीएनफ़्यूगोस शहर में ही यह वैक्सीन लगाई जा रही है।वहीं दुनिया के कई देशों में 12 साल से ऊपर के बच्चों को कोरोनावायरस इन लगाए जाने की शुरुआत हो चुकी है।

Corona vaccine 'ZyCov-D' started for children above 2 years here, WHO has not received recognition

भारत की अगर बात करें तो यहां भी जल्द ही 12 साल से ऊपर बच्चों को कोरोना वैक्सीन लगाए जाने की शुरुआत होगी। बच्चों को वैक्सीन लगाने के लिए जायडस कैडिला की कोरोना वैक्सीन को आपात इस्तेमाल के लिए मंजूरी दे दी गई है। जयडस केडला की कोरोना वैक्सीन को ZyCov-D नाम दिया गया है। यह डीएनए पर आधारित दुनिया की पहली वैक्सीन है। इस वैक्सीन को ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) की ओर से मंजूरी दे दी गई है।

Related Articles