ग्रामीण क्षेत्रों में वायरल बीमारियों का क़हर, घर-घर बिछी चारपाई

आगरा। ग्रामीण क्षेत्रों में वायरल बुखार, डेंगू और चिकिनगुनिया का प्रकोप देखने को मिल रहा है। ग्रामीण क्षेत्र के हर घर कोई न कोई व्यक्ति इन बीमारियों की चपेट में है। ब्लॉक फतेहाबाद के गांव राजापुरा में वायरल बुखार, खांसी, जुकाम एवं बदन दर्द के मरीजों की घर घर चारपाई बिछी हुई है। इस वायरल बुखार के प्रकोप के चलते झोलाछाप चिकित्सकों की पौ बारह बनी हुई है। लोगों को इलाज में कोई फायदा न होने पर उनका मर्ज बढ़ता जा रहा है। गांव में वायरल बुखार से पीडित दर्जनों लोग आगरा के निजी अस्पताल में अपना इलाज करा रहे है वहीं पैसा भी अधिक खर्चा करना पड़ रहा है। वायरल के बढते प्रकोप को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग की टीम फतेहाबाद के गांव राजापुरा पहुँची और मरीजो की स्थित को देख उनका इलाज किया।

अधीक्षक सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र फतेहाबाद डा. अतुल भारती ने बताया कि वायरल के प्रकोप को देखते हुए ग्राम पंचायत स्तर पर सूची बनाई जा रही है। दवा का छिड़काव करवाया जा रहा है। जिससे डेंगू के मच्छर न पनपे। इतना ही नहीं एक माइक्रो प्लान बनाया जा रहा है जिसके अंर्तगत 4 मेडिकल ऑफिसर 24 घंटे उपलब्ध रहेंगे। वहीं ग्राम प्रधानों से गांव में दवा छिड़काव की अपील की गई है। अधीक्षक का कहना है कि हर माह करीब 3000 मरीज वायरल प्रकोप के आ रहे है।

पिनाहट में तो स्थिति इससे भी ज्यादा बुरी है। पिनाहट ब्लॉक के न्यायपुरा में खसरा, बुखार, खासी, जैसी बीमारियां ने ग्रामीणों को अपनी चपेट में ले लिया है। यह बीमारियां विकराल रूप ले चुकी है इसकी जानकारी चाइल्ड लाइन संस्था ने स्वास्थ्य विभाग को दी। जिसके बाद विभाग में भी हड़कंप मचा और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी गांव पहुँचे। इन बीमारियों के कारण मरीजों की हर घर में चारपाई देखने को मिल रही है। चाइल्ड लाइन संस्था के सहयोग से स्वास्थ्य विभाग ने चिकित्सा शिविर लगाया है। साथ ही इन बीमारियों से निपटने के लिए घर घर जाकर उन्हें जागरूक बनाया जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग की टीम गांव में छिड़काव भी करा रही है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*