‘प्रेरणा एप’ का विरोध शुरू, शिक्षक संगठनों ने बनाई ये रणनीति

जनपद आगरा के विभिन्न शिक्षक संगठनों ने प्रेरणा एप के विरोध में अपनी आवाज को बुलंद करना शुरू कर दिया है। सोमवार को जिले के विभिन्न शिक्षक संगठन ने सर्वदलीय बैठक की। इस बैठक में सभी ने प्रेरणा एप का विरोध किया और इस एप को शिक्षक विरोधी बताया। शिक्षक सम्मान की रक्षा हेतु संयुक्त शिक्षक संगठन संघर्ष समिति बनाकर असहयोग आंदोलन चलाने की रणनीति बनाई।

इस बैठक के दौरान सभी लोगों ने असहयोग आंदोलन के अंतर्गत विभागीय व्हाट्सएप समूहों को छोड़ने, काली पट्टी बाँधकर नियमित कार्य करते हुए विरोध करना, प्रेरणा एप को डाउनलोड न करना और न ही प्रशिक्षण प्राप्त करना, सभी तरह की विभागीय कार्य, सूचनाओं में असहयोग, सभी ABRC, NPRC, इंचार्ज HM अपने अतिरिक्त दायित्व से त्याग पत्र देने की योजना बनाई गई है।

इसी क्रम में शिक्षा व शिक्षक विरोधी प्रेरणा एप के विरोध में असहयोग आंदोलन के अंतर्गत दिनाक 4 सितंबर, 2019 को जनपद में आयोजित सत्र परीक्षा का बहिष्कार कर प्रातः 9 बजे से BSA कार्यालय पर धरना प्रदर्शन कर बिना धरातलीय तैयारियों के प्रेरणा एप लागू करने का विरोध किया जायेगा। तत्पश्चात BSA कार्यालय से कलेक्टरेट तक पैदल मार्च कर जिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंपा जायेगा।

बताया जाता है कि परिषदीय विद्यालयों से अक्सर अनुपस्थित रहने वाले शिक्षकों पर नकेल कसने के लिए प्रेरणा एप लांच किया गया है। इस एप के माध्यम से शिक्षकों पर ‘प्रेरणा एप’ के माध्यम से नजर रखी जाएगी। इस एप पर स्कूल पहुंचते ही शिक्षकों को अपना फोटो एप पर डाउनलोड करना होगा। उसके बाद छात्रों की उपस्थित भी शिक्षक को अपलोड करनी होगी। मिड-डे-मील दिए जाने की भी प्रक्रिया को एप पर अपलोड किया जाएगा। स्कूल से जाने तक की भी फोटो डालनी होगी। ये सब दफ्तरों में बैठे अधिकारी एप को खोल शिक्षकों की जांच कर सकेंगे। जिला स्तर से लेकर लखनऊ तक के अफसर इस पर नजर रखेंगे। अनुपस्थित रहने वाले शिक्षकों पर अब कार्रवाई होगी।

इस बैठक में प्रमुख रूप से मुकेश डागुर जिलाध्यक्ष राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ आगरा, बलविंदर सिंह गिल जिलाध्यक्ष जूनियर हाई स्कूल शिक्षक संघ आगरा, सुरेश खिरवार जिलाध्यक्ष राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद/विशिष्ट बी टी सी शिक्षक एसोसिएशन, जितेंद्र सिकरवार राष्ट्रीय अध्यक्ष यूनाइटेड टीचर्स एसोसिएशन UTA 1739, वीरेंद्र छोंकर जिलाध्यक्ष शिक्षामित्र संघ, मोहन सिंह चाहर, अभय यादव, संदीप गौड़, चंद्रपाल सोलंकी, उमेश यादव, उमेश अग्रवाल, कीर्तपाल सिंह, अरविंद यादव, लाखन सिंह, विवेक यादव, प्रशांत सक्सेना, मुकेश कुमार वर्मा, विजय कुलश्रेष्ठ, रामवीर सिंह आदि उपस्थित रहे।

About admin 2022 Articles
मून ब्रेकिंग एक ऐसा न्यूज़ चैनल है जिसकी कोशिश हर ख़बर या घटना की जानकारी पूरी सत्यता के साथ और जल्द से जल्द आप तक पहुँचाने की है। मून ब्रेकिंग की शुरुआत सितम्बर 2017 से हुई है। मून ब्रेकिंग आपको नेट के जरिये देश-दुनिया, क्राइम, राजनीति, लाइफस्टाइल और मनोरंजन आदि से जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध करायेगा। साथ ही किसी घटना पर प्रतिक्रिया देने या आपकी आवाज़ बुलंद करने के लिए मून ब्रेकिंग एक साझा मंच भी प्रदान करता है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*