कोहरे में खड़े खराब ट्रक से टकराने के बाद वॉल्वो बस 40 फ़ीट खाई में गिरी, मची चीखपुकार

आगरा। थाना फतेहाबाद के गांव सिकरारा के पास उस समय कोहराम मच गया जब यूपी रोडवेज की स्केनिया वोल्वो बस घने कोहरे के कारण हादसा का शिकार हो गयी। घने कोहरे के कारण आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस पर फतेहाबाद थाना क्षेत्र में खराब खड़े ट्रक में पीछे से टकरा गई और 40 फीट गहरी खाई में गिर पड़ी। इसमें सवार दो यात्रियों की मौत हो गई जबकि 22 लोग घायल हो गए। इस हादसे को देख राहगीरों और लोगों ने घटना स्थल की ओर दौड़ लगाई। लोगों ने इसकी सूचना पुलिस और यूपीडा को दी। घटना की जानकारी होते ही पुलिस मौके पर पहुँच गयी और राहत बचाव कार्य शुरू कर दिया। ग्रामीणों की मदद से घायल हुए सभी लोगों को अलग-अलग अस्पतालों में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है तो वहीं दो यात्रियों की मौके पर ही मौत हो गयी।

बताया जाता है कि आगरा फोर्ट डिपो की रोडवेज बस सोमवार सुबह 7:00 बजे आगरा की ओर से लखनऊ जा रही थी। बस में 35 से अधिक सवारियां मौजूद थी। जैसे ही वॉल्वो बस फतेहाबाद क्षेत्र में सिकरारा गांव के पास पहुँची वहाँ एक्सप्रेस वे पर बीच में खड़ा खराब ट्रक घने कोहरे के कारण बस चालक को दिखाई नही दिया और बस ट्रक में पीछे से टकरा गई। वॉल्वो के ट्रक के टकराने के बाद बस 40 फीट गहरी खाई में जाकर पलट गई। बस में सवार यात्रियों में चीख-पुकार मच गई। दुर्घटना स्थल से 400 मीटर दूर सिकरारा गांव स्थित था। वहां के लोगों ने चीख पुकार सुनी तो वे मौके पर दौड़कर पहुंचे। बस में फंसे यात्रियों को निकाला और पुलिस को बुला लिया। पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से सभी को बाहर निकाला। इनमें से दो की मौत हो गई जबकि 22 यात्री घायल हो गए। इनमें से 8 की हालत गंभीर बताई जा रही है। सभी को फतेहाबाद और आगरा में भर्ती कराया गया है। मृतकों में से एक की शिनाख्त जेब से मिले पहचान पत्र के आधार पर सप्तर्षि अपार्टमेंट आवास विकास कालोनी निवासी दिनेश शाक्य के रूप में हुई है। दूसरे की अभी तक शिनाख्त नहीं हुई है।

लोग इस घटना के लिए यूपीडा को जिम्मेदार मान रहे हैं। लखनऊ की ओर जा रहा ट्रक रात 10 बजे खराब हुआ था। इसे एक्सप्रेस वे संचालन कर रही यूपीडा( उत्तर प्रदेश एक्सप्रेसवेज इंडस्ट्रीयल डेवलपमेंट अथॉरिटी) के अधिकारियों ने क्यो नहीं देखा। यह ट्रक रातभर वहीं खड़ा रहा और कोहरे में काल बन गया। समय से इस ट्रक को क्रेन के माध्यम से हटवा दिया जाता तो यह हादसा न होता।

इस घटना के बाद प्रशासनिक अमला और रोडवेज अधिकारी मौके पर पहुँच गए। रोडवेज आरएम मनोज त्रिवेदी ने घायलों को रोडवेज द्वारा आर्थिक सहायता दिए जाने की बात कही।

घटना स्थल पर मौजूद एसपी पूर्वी प्रमोद कुमार ने बताया कि राहत बचाव कार्य तुरंत शुरू दिया गया है। क्रेन मशीन के जरिए खाई में पलटी बस को घंटों की मशक्कत के बाद बाहर निकाला गया। घटना में घायल लोगों का उपचार कराया जा रहा है तो दो लोगों की मौत भी हुई है। राहत एवं बचाव कार्य के दौरान आगरा लखनऊ एक्सप्रेस वे पर डायवर्जन किया गया है। लिहाजा घंटों चले इस रेस्क्यू ऑपरेशन में पुलिस ने सभी को उनके गंतव्य तक सुरक्षित पहुंचा दिया है।

About admin 4146 Articles
मून ब्रेकिंग एक ऐसा न्यूज़ चैनल है जिसकी कोशिश हर ख़बर या घटना की जानकारी पूरी सत्यता के साथ और जल्द से जल्द आप तक पहुँचाने की है। मून ब्रेकिंग की शुरुआत सितम्बर 2017 से हुई है। मून ब्रेकिंग आपको नेट के जरिये देश-दुनिया, क्राइम, राजनीति, लाइफस्टाइल और मनोरंजन आदि से जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध करायेगा। साथ ही किसी घटना पर प्रतिक्रिया देने या आपकी आवाज़ बुलंद करने के लिए मून ब्रेकिंग एक साझा मंच भी प्रदान करता है।