Home देश-विदेश भगवान कृष्ण की माखन चोर लीला ने एक मासूम बच्चे को चोर बनने से बचाया, कोर्ट ने किया बरी

भगवान कृष्ण की माखन चोर लीला ने एक मासूम बच्चे को चोर बनने से बचाया, कोर्ट ने किया बरी

by admin
Lord Krishna's butter thief Leela saved an innocent child from becoming a thief, the court acquitted
Spread the love

एक गांव में पड़ोसी के घर फ्रीज में रखी मिठाई चुराकर खाने के आरोपी बच्चे को गुरुवार को कोर्ट ने दोषमुक्त कर दिया। किशोर न्याय परिषद के जज मानवेन्द्र मिश्र ने आदेश में कहा है कि हमें बच्चों के मामले में सहिष्णु और सहनशील होना पड़ेगा। अगर माखन चोरी बाल लीला है तो मिठाई चोरी अपराध कैसे? उनकी कुछ गलितयों को समझाना पड़ेगा कि आखिर बच्चे में भटकाव किस परिस्थिति में आई।

किशोर न्याय परिषद के जज मानवेन्द्र मिश्र ने कहा कि एक बार हम बच्चे की मजबूरी, परिस्थिति, सामाजिक स्थिति को समझ जाएं तो उनके इन तुक्ष्य अपराधों पर विराम लगाने के लिए समाज स्वयं आगे आने और मदद के लिए तैयार हो जाएगा। भगवान कृष्ण अनेकों बार दूसरे के घर से माखन चुराकर खा लेते थे और मटकी भी फोड़ देते थे। यदि वर्तमान समाज जैसा उस समय का समाज रहता तो बाल लीला की कथा नहीं होता। यह जानते हुए कि बच्चा ननिहाल आया हुआ है और मिठाई खा लिया तो उन्हें बात खत्म करनी चाहिए थी।

बता दें कि यह मामला बिहार शरीफ के हरनौत थाना क्षेत्र के चेरो ओपी अंतर्गत एक गांव का है। बच्चा आरा जिले का रहने वाला है और वह घूमने के लिए अपने ननिहाल आया था। सात सितंबर को वह पड़ोस की मामी के घर घुस गया था। फ्रीज खोलकर उसमें रखी सारी मिठाई खा गया। फ्रीज के ऊपर एक मोबाइल रखा था जिसे लालचवश लेकर निकल गया और मोबाइल से गेम खेल रहा था, उसी वक्त मामी ने उसे पकड़कर पुलिस को सौंप दिया।

इस मामले में बाल कल्याण पुलिस पदाधिकारी ने भी अपनी रिपोर्ट में इस बात की पुष्टि की है कि वह भूख के कारण पड़ोसी के घर में घुस गया था, लालचवश उसने मोबाइल लिया था। अन्य कोई सामान चुराने की पुष्टि नहीं हुई है। कोर्ट ने कहा कि बिहार किशोर न्याय अधिनियम 2017 के तहत पुलिस को इस मामले में एफआईआर दर्ज करने के बजाय डेली जेनरल डायरी में दर्ज करना चाहिए था।

Related Articles