कोविड अस्पतालों में भर्ती संक्रमित मरीज़ नहीं कर सकेंगे मोबाइल का इस्तेमाल, जाने क्यों

आगरा। उत्तर प्रदेश शासन ने कोविड समर्पित चिकित्सालयों में भर्ती कोरोना संक्रमित मरीजों को मोबाइल साथ रखने पर प्रतिबंध लगा दिया है। शासन ने यह कदम कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए उठाया है। भर्ती मरीजों को परिजनों से बात कराने के लिए इन कोविड केयर सेंटर में दो डेडीकेटेड फोन रखने के निर्देश भी दिए गए हैं ताकि आवश्यकता पड़ने पर कोरोना मरीज अपने परिजनों के अलावा किसी अधिकारी व अन्य जनों से भी बात कर सकें।

बताते चलें कि उत्तर प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा एवं प्रशिक्षण के महानिदेशक के के गुप्ता द्वारा प्रदेश के समस्त कोविड समर्पित चिकित्सालय के लिए एक पत्र जारी किया गया है जिसमें मोबाइल फोन को कोरोना संक्रमण फैलने का अहम कारण मानते हुए L2 व L3 कोविड चिकित्सालय में मोबाइल प्रयोग करने पर पूर्ण प्रतिबंध लगा दिया गया है। L2 व L3 केयर सेंटर में भर्ती मरीज अब अपने साथ मोबाइल नहीं रख सकेंगे।

आवश्यकता पड़ने पर मरीज अपने परिजनों, शासकीय अधिकारी या अन्य जनों से बात कर सके, इसके लिए कोविड केयर सेंटर के वार्ड इंचार्ज के पास इनफेक्शन प्रीवेंशन कंट्रोल का अनुपालन करते हुए दो डेडीकेटेड मोबाइल फोन रखने के निर्देश दिए हैं, साथ ही इन दोनों मोबाइल के नंबर L2 व L3 चिकित्सालय में भर्ती संक्रमित मरीजों व उनके परिजनों को उपलब्ध कराने को भी कहा गया है ताकि आवश्यकता पड़ने पर मरीज या परिजन उस फोन नंबर पर संपर्क कर सकें।

About admin 3952 Articles
मून ब्रेकिंग एक ऐसा न्यूज़ चैनल है जिसकी कोशिश हर ख़बर या घटना की जानकारी पूरी सत्यता के साथ और जल्द से जल्द आप तक पहुँचाने की है। मून ब्रेकिंग की शुरुआत सितम्बर 2017 से हुई है। मून ब्रेकिंग आपको नेट के जरिये देश-दुनिया, क्राइम, राजनीति, लाइफस्टाइल और मनोरंजन आदि से जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध करायेगा। साथ ही किसी घटना पर प्रतिक्रिया देने या आपकी आवाज़ बुलंद करने के लिए मून ब्रेकिंग एक साझा मंच भी प्रदान करता है।