कबाड़ के गोदाम में संचालित थी अवैध शराब की फैक्ट्री, छापा मार कर 4 माफिया पकड़े

Illegal liquor factory was operated in junk warehouse, raided and caught 4 mafia

Agra. त्रिस्तरीय पंचायत चुनावों का शंखनाद होने के बाद शराब की डिमांड भी बढ़ गयी है। इस डिमांड को पूरा करने के लिये शराब तस्कर भी सक्रिय हो गए हैं। इसलिए तो आए दिन अवैध रूप से संचालित शराब की फैक्ट्री चलने और उन पर छापे मारे जाने की खबरें सामने आ रही है। बुधवार को पुलिस ने ऐसे ही छापामार कार्यवाही को अंजाम देकर कबाड़ गोदाम में अवैध रूप से संचालित शराब फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया है। पुलिस ने मौके से चार शराब माफियाओं को गिरफ्तार किया है, साथ ही नकली शराब और उसके बनाने का सामान भी बरामद किया है।

घटना डौकी थाना क्षेत्र की है। क्षेत्रीय पुलिस ने चेकिंग के दौरान हिंगोट खेरिया गांव निवासी ओमप्रकाश सिकरवार को 45 क्वार्टर के साथ गिरफ्तार किया। उससे पूछताछ में पता चला कि वह इकथरा गांव निवासी सुखवीर व अन्य से शराब खरीदकर लाता है। वे बमरौली कटारा में एक कबाड़ गोदाम में नकली शराब तैयार करते हैं। पुलिस ने पूछताछ के बाद बमरौली कटारा में दबिश दी। वहां नकली शराब बनाई जा रही थी। बार कोड बनाकर शराब की रिफिलिंग की जा रही थी। मौके से सुखवीर, राजपुर चुंगी निवासी कुलदीप चौहान और धांधूपुरा निवासी महेंद्र प्रताप को गिरफ्तार कर लिया। मौके से 135 क्वार्टर, 12 अद्धा, एक अल्टो कार, खाली ढक्कन और शराब बनाने के सामान के साथ ही दो तमंचे और कारतूस बरामद हुए। आरोपितों के खिलाफ डौकी थाने में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

एसपी ईस्ट के वेंकट अशोक ने बताया कि पंचायत चुनावों को लेकर पुलिस जगह जगह मुस्तेद है और अवैध कारोबार पर शिकंजा कस रही है। इसी के चलते अवैध रूप से संचालित शराब की फैक्ट्री पर का खुलासा हुआ है। काफी मात्रा में शराब व नकली शराब बनाने का सामान बरामद किया है। आरोपित नकली शराब बनाकर पंचायत चुनाव में खपा रहे थे।

About admin 6660 Articles
मून ब्रेकिंग एक ऐसा न्यूज़ चैनल है जिसकी कोशिश हर ख़बर या घटना की जानकारी पूरी सत्यता के साथ और जल्द से जल्द आप तक पहुँचाने की है। मून ब्रेकिंग की शुरुआत सितम्बर 2017 से हुई है। मून ब्रेकिंग आपको नेट के जरिये देश-दुनिया, क्राइम, राजनीति, लाइफस्टाइल और मनोरंजन आदि से जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध करायेगा। साथ ही किसी घटना पर प्रतिक्रिया देने या आपकी आवाज़ बुलंद करने के लिए मून ब्रेकिंग एक साझा मंच भी प्रदान करता है।