यमुना मिशन ने किया पंच व सप्तकोसीय परिक्रमा का निरीक्षण

मथुरा। ‘यमुना मिशन’ नि:स्वार्थ भाव से जनहित में अपने कार्यों को बखूबी अंजाम दे रहा है। स्वच्छता अभियान हो या कोई भी जनहित का कार्य, उसे पूरा करने में यमुना मिशन अपने वालियन्टरों के साथ हमेशा तैयार रहता है।

मथुरा-वृन्दावन के पंचकोसीय एवं सप्तकोसीय परिक्रमा की शुरूआत होने में अब कुछ ही दिन शेष हैं। ब्रज में अक्षय नवमी, कंसवध मेला, देवोत्थान एकादशी पर्व पर मथुरा-वृन्दावन की परिक्रमा का विशेष महत्व है। एक चरितार्थ कहावत है जहां न पहुंचे कवि वहां पहुंचे रवि। इसी कहावत को चरितार्थ करते हुए तथा परिक्रमा के महत्व को ध्यान में रखते हुए यमुना मिशन के संयोजक पं.अनिल शर्मा के नेतृत्व में 30 वालियन्टरों ने मथुरा-वृन्दावन परिक्रमा मार्ग का मोटरसाइकिल से निरीक्षण किया। परिक्रमा मार्ग में जगह-जगह गंदगी का अंबार लगा हुआ था। परिक्रमा मार्ग में व्याप्त गंदगी की जानकारी ‘यमुना मिशन’ ने नगर निगम आयुक्त डा. उज्जवल कुमार को दी तथा डलाबघरों से शीघ्र कूड़ा निस्तारण की मांग की। डा. उज्जवल कुमार के नेतृत्व में यमुना मिशन अक्षय नवमी पर्व से पूर्व परिक्रमा मार्ग में व्याप्त गंदगी एवं कूड़े के ढेरों को हटवाने का कार्य करेगा जिससे परिक्रमा मार्ग में आने वाले परिक्रमार्थियों एवं श्रद्धालुओं की भावनाएं आहत न हो। यमुना मिशन ने परिक्रमा में निवास कर रहे लोगों से भी अनुरोध किया कि वह अपने घरों का कूड़ा परिक्रमा मार्ग में डालकर मार्ग को गंदा न करें तथा अपने घरों के मुख्यद्वार पर पड़ी गंदगी को साफ कर कूड़ा नियत स्थान पर ही डालें। उन्होंने कहा कि उद्देश्य बस इतना है कि आने वाले परिक्रमार्थियों की भावनाएं गंदगी देख आहत न हों।

परिक्रमा मार्ग डेम्पियर नगर, बृज नगर, नानक नगर, कंकाली, भूतेश्वर, पोतरा कुण्ड, मल्लपुरा, महाविद्या, स्वरस्वती कुण्ड आदि का निरीक्षण किया।

इस अवसर पर यमुना मिशन के संयोजक पं. अनिल शर्मा, देवेन्द्र शर्मा, हरीश शर्मा, मुकेश ठाकुर, देवेश चौधरी, मोनू पंडित, राजीव शर्मा, गोपाल लाल, मनीष सक्सैना, हरीमोहन, गोविन्द ठाकुर, सतीश ठाकुर, सचिन गोला, रीतेश शर्मा, मौनू सैनी, ठा.मानपाल सिंह, राजू, भीम आदि उपस्थित थे।

रिपोर्टर – जीवनदीप कल्याण (मथुरा)

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*