तीन पुलिसकर्मियों के खिलाफ हुआ मुकदमा, निलंबन तय

आगरा। पुलिस हिरासत में हुई जुगनू की मौत जगदीशपुरा थाने के लिए गले की फांस बनता चला जा रहा है। परिवारीजनों का आरोप था कि पुलिसकर्मियों ने जुगनू को बेरहमी से पीटा था जिसके कारण उसकी मौत हो गई। पोस्टमार्टम के बाद मृतक जुगनू के परिवारीजनों ने दोषी पुलिसकर्मियों खिलाफ तहरीर दी थी जिस पर पुलिस के आला अधिकारियों ने कार्रवाई कर दी है। इस कार्यवाही के चलते जगदीशपुरा थाना के दरोगा सहित कई पुलिसकर्मियों पर गाज गिर चुकी है।

पुलिस के आला अधिकारियों के निर्देश पर दरोगा योगेंद्र सिंह , सिपाही मनोज और अन्य तीन पुलिसकर्मियों के खिलाफ जगदीशपूरा थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया है।

बताया जाता है कि सम्बंधित थाने के दरोगा योगेन्द्र सिंह 82 की तामील कराने जुगनू के घर गए थे। वांछित चल रहा जुगनू घर पर ही मिल गया। पुलिस की हिरासत में आने पर मृतक जुगनू भागने लगा। तभी पुलिस कर्मियो ने उसकी जमकर पिटाई कर दी थी जिसका विडियो भी वायरल हुआ था। जुगनू के परिवरिजनों ने पुलिस कर्मियों पर जुगनू की हत्या का आरोप लगाया था। पुलिस के आला अधिकारियों ने पिटाई के वीडियो वायरल और पीड़ित की तहरीर को गंभीरता से लिया और जांच कर दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ थाना जगदीशपुरा में मुकदमा लिखा गया है। वहीं सीओ लोहामंडी से हुई बातचीत में बताया कि मुकदमा लिख जाने के बाद दोषी पुलिसकर्मियो का निलंबन भी किया जा सकता है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*