‘कोरोना संकट से अभी तक नहीं उबर पाए असंगठित क्षेत्र के मजदूर, सरकार उठाए उचित कदम’

'Unorganized sector workers have not yet recovered from Corona crisis, Government takes appropriate steps'

Agra. प्रवासी भारतीय दिवस के उपलक्ष्य में असंगठित कर्मचारी यूनियन/उत्तर प्रदेश ग्रामीण मजदूर संगठन द्वारा BWI के सहयोग से “अंतरराष्ट्रीय प्रवासी श्रमिक जागरूकता कार्यशाला” का आयोजन किया गया। फतेहाबाद रोड स्थित एक होटल में आयोजित कार्यशाला में आगरा ग्रामीण विधायक हेमलता दिवाकर कुशवाह मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद रही। कार्यशाला के दौरान राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मजदूरों को होने वाली समस्याओं पर विचार विमर्श किया गया और सभी स्थानीय मजदूर यूनियन के प्रतिनिधियों ने मजदूरों की विभिन्न समस्याओं को सामने रखा गया।

BWI के पदाधिकारियों ने बताया कि आज जितना संघर्ष मजदूर कर रहा है उतना कोई वर्ग नहीं कर रहा है। इन मजदूरों में देश के बाहर से आये मजदूरों की स्थिति दयनीय है। कोरोना ने उनकी नौकरी छीनी तो उसकी मार परिवार पर भी पड़ रही है। इन मजदूरों के लिए सरकार को उचित कदम उठाने चाहिए।

उत्तर प्रदेश ग्रामीण मजदूर संगठन के अध्यक्ष तुलाराम शर्मा ने बताया कि कोरोना के बाद अंतरराष्ट्रीय प्रवासी श्रमिक की दिक्कतें ज्यादा बढ़ गयी हैं। कोरोना के कारण विदेशों में नौकरी छूटने के बाद उन्हें वापस आना पड़ा। अब इन मजदूरों के पास नौकरी नहीं है तो परिवार भी आर्थिक संकट से गुजर रहा है। सरकार से मांग है कि ऐसे मजदूरों की हर संभव मदद सरकार को करनी चाहिए।

स्थानीय यूनियनों के प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए विधायक हेमलता दिवाकर ने कहा कि चाहे अंतर्राष्ट्रीय प्रवासी श्रमिक हों, चाहे राष्ट्रीय प्रवासी श्रमिक हों उन्हें कार्यस्थल पर विभिन्न प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। लॉकडाउन के दौरान इन मजदूरों की मुश्किलें और ज्यादा बढ़ गयी जिनका सामना उन्हें करना पड़ रहा है। हमारी केंद्र सरकार ने विदेशों में काम करने गए श्रमिकों को वापिस लाने में काफी काम किया व उनके भरण पोषण हेतु नवम्बर 2020 तक मुफ्त राशन मुहैया कराया। उन्हें राशन किट के साथ 1000 रु प्रति श्रमिक सहायता दी व उत्तर प्रदेश सरकार ने पंजीकृत श्रमिकों को 1000 – 1000 रु आर्थिक सहायता दी। गरीबों मजदूरों को राशन सहायता दी गयी। सरकार द्वारा प्रयास किया जा रहा है कि मजदूरों को स्थानीय स्तर रोजगार मिले।

प्रवासी श्रमिकों के सहायतार्थ BWI द्वारा किये गए प्रयास काबिले तारीफ़ हैं। उन्होंने अपने स्तर से स्थानीय यूनियनों को हर सम्भव सहयोग करने का आश्वासन दिया।

कार्यशाला में असंगठित कर्मचारी यूनियन के अध्यक्ष बिजेंद्र शर्मा ने लक्ष्य व उद्देश्यों पर प्रकाश डाला व उत्तर प्रदेश ग्रामीण मजदूर संगठन के अध्यक्ष तुलाराम शर्मा ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की। कार्यशाला में शोमा जैन, रमेश चंद्र पालीवाल, हरीमोहन कुशवाह, जितेंद्र शर्मा, बबिता, सोनू दिवाकर, हर्ष आदि ने भाग लिया।

अगर आप हमारे न्यूज़ ब्रेकिंग के व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़ना चाहते हैं तो इस लिंक पर क्लिक करके हमें सपोर्ट करें, धन्यवाद…

https://chat.whatsapp.com/K7TYmtMzREv5Os7R2Lgzy8

About admin 5449 Articles
मून ब्रेकिंग एक ऐसा न्यूज़ चैनल है जिसकी कोशिश हर ख़बर या घटना की जानकारी पूरी सत्यता के साथ और जल्द से जल्द आप तक पहुँचाने की है। मून ब्रेकिंग की शुरुआत सितम्बर 2017 से हुई है। मून ब्रेकिंग आपको नेट के जरिये देश-दुनिया, क्राइम, राजनीति, लाइफस्टाइल और मनोरंजन आदि से जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध करायेगा। साथ ही किसी घटना पर प्रतिक्रिया देने या आपकी आवाज़ बुलंद करने के लिए मून ब्रेकिंग एक साझा मंच भी प्रदान करता है।