Home आगरा विद्युत चेकिंग करने पहुंची टोरेंट टीम पर हमला, दूसरे पक्ष ने लगाया महिला से अभद्रता करने का आरोप

विद्युत चेकिंग करने पहुंची टोरेंट टीम पर हमला, दूसरे पक्ष ने लगाया महिला से अभद्रता करने का आरोप

by admin

Agra. गुरुवार को विद्युत चेकिंग के दौरान नाई की मंडी थाना क्षेत्र में टोरेंट पावर की टीम से विवाद हो गया। विवाद इतना बढ़ गया कि लोगों ने टोरंट की टीम को दौड़ा लिया और उनके साथ मारपीट भी की। वहीँ दूसरे पक्ष का कहना है कि टोरेंट पावर की टीम बेवजह उनके घर और घर में मौजूद महिलाओं के फोटो खींच रही थी। जब उन्होंने विरोध किया तो टोरंट की टीम ने महिलाओं के साथ अभद्रता और मारपीट की।

विवाद की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंच गई और पुलिस ने टोरंट टीम पर हमला करने वाले लोगों पर जमकर लाठियां भांजी। इस पूरे मामले में मंटोला थाना में 17 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ है जिसमें 11 नामजद और छह अज्ञात है। पुलिस ने इस मुकदमे के बाद आरोपियों की गिरफ्तारी शुरू कर दी है।

जानकारी के मुताबिक टोरंट पावर को काफी समय से नाई की मंडी के नील कटरा क्षेत्र में बिजली चोरी की जानकारी मिल रही थी। ओवरलोडिंग के कारण लाइन में फाल्ट भी हो रहे थे। इसको लेकर गुरुवार दोपहर टोरंट पावर की टीम स्थानीय पुलिस के साथ चेकिंग के लिए पहुंची थी। नील कटरा में अशफाक के घर में उन्हें एमसीवी चेक करने पर मीटर में गड़बड़ी की आशंका हुई। इसके बाद टीम ने मीटर निकाल कर जांच के लिए भेजने की कोशिश की।

आरोप है कि मीटर निकालने पर महिलाओं – पुरुषों ने अभद्रता शुरू कर दी। आस-पड़ोस के युवकों को बुला कर टोरंट कर्मियों और पुलिस से अभद्रता की। पुलिसकर्मियों ने थाने को सूचना दी और मौके पर बड़ी संख्या में फोर्स पहुंच गया। इसके बाद भी लोग अभद्रता करते रहे। पुलिस ने माहौल काबू करने के लिए बल प्रयोग करते हुए हंगामा करने वालों पर जमकर लाठियां बरसाईं। इस दौरान एक महिला ने भी पुलिसकर्मियों से अभद्रता की। पुलिस ने लेडी कांस्टेबल बुला कर उसे भी पकड़ लिया।

टोरंट पावर और पुलिस ने 11 नामजदों और छह अज्ञात के खिलाफ सरकारी कार्य में बाधा, बिजली चोरी, मारपीट समेत गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया है। कुछ लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया है और बाकी लोगों की गिरफ्तारी में पुलिस जुट गई है।

पूरे मामले में अशफाक पक्ष का कहना है कि टोरंट वाले उनके घर में घुस कर अभद्रता कर रहे थे। हमारे यहां कोई बिजली चोरी नहीं हो रही थी लेकिन वे उल्टे-सीधे फोटो खींच रहे थे। जो फोटो खींचने का विरोध किया गया तो टोरंट के साथ चल रही पुलिस ने हमारी पिटाई की और कई महिलाओं और पुरुषों को चोट आई है।

Related Articles

Leave a Comment

%d bloggers like this: