Home आगरा आगरा मेट्रो प्रायॉरिटी कॉरिडोर के ऐलिवेटिड भाग में मेन लाइन के लिए ट्रैक बिछाने का काम शुरू

आगरा मेट्रो प्रायॉरिटी कॉरिडोर के ऐलिवेटिड भाग में मेन लाइन के लिए ट्रैक बिछाने का काम शुरू

by admin

आगरा। उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कॉरपोरेशन द्वारा आगरा मेट्रो प्रायॉरिटी कॉरिडोर के ऐलिवेटिड भाग में मेन लाइन के लिए ट्रैक बिछाने का काम शुरू हो गया है। प्रथम चरण में आगरा मेट्रो टीम द्वारा डेड एंड से लेकर बसई मेट्रो स्टेशन के बीच प्लिंथ बीम के कास्टिंग करते हुए ट्रैक बिछाने का काम किया जा रहा है। यूपी मेट्रो द्वारा मेन लाइन पर हेड हार्डेंड रेल का प्रयोग करते हुए बैलास्टलैस ट्रैक बिछाया जा रहा है। वहीं, आगरा मेट्रो टीम द्वारा डिपो परिसर में बैलास्टिड ट्रैक बिछाने का काम लगभग पूरा किया जा चुका है।

यूपीएमआरसी द्वारा आगरा मेट्रो के दोनों कॉरिडोर के मेन रूट पर बैलास्टलैस ट्रैक बिछाया जाना है। फिलहाल, प्रायॉरिटी कॉरिडोर के ऐलिवेटिड भाग में प्लिंथ बीम की कास्टिंग कर ट्रैक बिछाने का काम किया जा रहा है। बैलास्टलैस ट्रैक निर्माण के दौरान कॉन्क्रीट बीम (प्लिंथ बीम) पर पटरियों को बिछाया जाता है। पारंपरिक तौर पर प्रयोग होने वाले ट्रैक की तुलना बैलास्टलैस ट्रैक अधिक मजबूत होता है एवं इसका मेन्टिनेंस भी काफी कम है।

बता दें कि रेलवे की तुलना में मेट्रो प्रणाली में पटरियों पर गाड़ियों का आवागमन अधिक होता है, यहां मेट्रो रेल औसतन पांच मिनट के अंतर पर चलती हैं। ऐसे में तेजी से ट्रेन की स्पीड पकड़ने और ब्रेक लगाने की स्थिति में ट्रेन के पहिये और पटरी के बीच अधिक घर्षण होता है। जिसके कारण सामान्य रेल जल्दी घिस सकती है जिससे पटरी टूटने, क्रेक आदि समस्या आ सकती है, लेकिन हेड हार्डेंड रेल के अधिक मजबूत होने के कारण ऐसी कोई समस्या नहीं आती है।

वायाडक्ट में ट्रैक बिछाने के लिए सबसे पहले क्रेन की मदद से ऑटोमेटिक ट्रैक वेल्डिंग मशीन को वायाडक्ट में पहुंचाया जाता है। इसके बाद पटरी के भागों को वेल्डिंग के जरिए जोड़कर लॉन्ग वेल्डिड रेल बनाई जाती है। इसके बाद वायाडक्ट में प्लिंथ बीम की कास्टिंग कर उस पर लॉन्ग वेल्डिड रेल बिछाई जाती है। लॉन्ग वेल्डिड रेल के प्रयोग से ट्रैक पर ट्रेन के चलने से होने वाले ध्वनि प्रदूषण में कमी आती है। वहीं, बैलास्टिड ट्रैक के लिए समतल भूमि पर गिट्टी एवं कॉन्क्रीट के स्लीपरों पर पटरी बिछाई जाती हैं।

आगरा मेट्रो प्रायॉरिटी कॉरिडोर के ऐलिवेटिड भाग में ट्रेन के ट्रैक बदलने हेतु ताज ईस्ट गेट एवं फतेहाबाद रोड मेट्रो स्टेशन पर क्रॉसओवर बनाए गए हैं। यात्री सेवाओं के दौरान मेट्रो ट्रेनें इन क्रॉसओवर के जरिए ट्रैक बदलेंगी। प्रथम कॉरिडोर में ताज ईस्ट गेट पहला मेट्रो स्टेशन हैं ऐसे में जब सिकंदरा से ताज ईस्ट गेट आने वाली ट्रैन क्रॉसओवर का प्रयोग करके पुन: सिकंदरा जाने के लिए निर्धारित प्लेटफॉर्म पर जाएगी। वहीं, फतेहाबाद रोड स्टेशन पर स्थित क्रॉसओवर का प्रयोग डिपो लाइन एवं मेन लाइन के बीच आवागमन के लिए किया जाएगा।

Related Articles

Leave a Comment

%d bloggers like this: