Home बड़ी खबर बिजली के पोल और तार चोरी करने वाले 8 शातिरों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बिजली के पोल और तार चोरी करने वाले 8 शातिरों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

by admin
Police arrested 8 vicious people stealing electric poles and wires
Spread the love

आगरा। थाना अछनेरा क्षेत्र में हाल ही में दो स्थानों पर बिजली के पोल और तार चोरी होने पर पुलिस महकमे द्वारा घटनाओं को गंभीरता से लिया गया। जिसके बाद घटनाओं में संलिप्त अभियुक्तों की तलाश में कई दिन की कश्मकश के बाद थाना पुलिस को आखिरकार बड़ी सफलता हाथ लग गयी। बताया जाता है कि विगत 15 नवंबर को गांव अभुआपुरा में अज्ञात चोरों ने 1100 मीटर बिजली तार और बिजली पोल चोरी किये थे। इसके बाद 21 नवंबर को गांव गोपऊ में पुनः घटना को अंजाम देते हुए 3700 मीटर तार और बिजली पोल गायब कर दिये गये। सम्बंधित विभाग द्वारा घटनाओं की प्राथमिकी थाना अछनेरा में दर्ज करायी गयी। थाना पुलिस ने अभियोग पंजीकृत कर अपनी कार्रवाई को अंजाम देना शुरू कर दिया।

एसएसपी सुधीर कुमार और एसपीआरए सत्यजीत गुप्ता के मार्गदर्शन में सीओ महेश कुमार ने थाना प्रभारी विपिन कुमार की अगुवाई में टीम गठित कर घटनाओं के शीघ्र खुलासे के निर्देश दिये। थाना प्रभारी विपिन कुमार ने किरावली पुलिस चौकी के तेजतर्रार चौकी इंचार्ज योगेश कुमार के साथ मिलकर दिन रात एक कर दिया।

थाना पुलिस द्वारा क्षेत्र में विभिन्न स्थानों पर गश्त और चेकिंग की जा रही थी। संदिग्धों को रोककर उनकी तलाशी ली जा रही थी। इसी दौरान मुखबिर की सूचना पर पुलिस अलर्ट हो गयी। भागने की फिराक में लगे संदिग्ध आठ लोगों की धरपकड़ कर उनको हिरासत में लिया गया। उनसे कड़ी पूछताछ के बाद पुलिस टीम की बांछें खिल गयीं। बिजली के तार और पोल चोरी करने वाले आठों अभियुक्त पुलिस की गिरफ्त में आ चुके थे। पूरे घटनाक्रम से उच्चाधिकारियों को अवगत कराया गया।

पकड़े गये अभियुक्त बबलू निवासी पुरानी गल्ला मंडी किरावली, विक्रम निवासी नगला मनी एत्मादपुर, शहजाद निवासी किरावली, प्रकाश निवासी नगला मनी एत्मादपुर, राकेश निवासी नगला मनी एत्मादपुर, दिनेश निवासी एत्मादपुर, छत्रपाल निवासी पुरानी गल्ला मंडी किरावली और जाकिर निवासी फरह के कब्जे से पुलिस द्वारा 9 छोटे और बड़े बिजली पोल, क्लेम्प सपोर्ट, 52 मीटर जला बिजली तार, 817 मीटर सुरक्षित तार, तार काटने की कैंची, 3 आरी, 43 आरी ब्लेड समेत एक टाटा आयशर गाड़ी बरामद बरामद की गयी।

गिरफ्तार अभियुक्तों का आपराधिक इतिहास
सीओ महेश कुमार ने बताया कि गिरोह के आठों सदस्यों का आपराधिक इतिहास है। काफी समय से घटनाओं को अंजाम दे रहे थे। विभिन्न थानों में इनके खिलाफ अभियोग पंजीकृत हैं। सभी अभियुक्तों को जेल भेजा जा रहा है। थाना प्रभारी विपिन कुमार, चौकी इंचार्ज योगेश कुमार के साथ उपनिरीक्षक निर्दोष कुमार, संदीप कुमार समेत हैड कांस्टेबल जितेंद्र कुमार, हेमराज, शैलेशराम, शिवम यादव, किशोर कुमार, सत्यम यादव, अरुण वर्मा, रणजीत कुमार की अहम भूमिका रही।

Related Articles