महज़ 40 रूपए के लिए नाबालिग बना हत्यारा

आगरा में 2 जनवरी को थाना मलपुरा के ककुआ क्षेत्र में नौवीं क्लास के छात्र की हुई हत्या का पुलिस ने आज खुलासा कर दिया। नौवीं के छात्र आसिफ की हत्या उसके घर से कुछ ही दूरी पर एक सरसों के खेत में हुई थी और उनकी हत्या उसी की बेल्ट से गला दबाकर की गई थी।

पुलिस ने खुलासा करते हुए एक 17 साल के किशोर को गिरफ्तार किया है जो मृतक आसिफ का पड़ोसी था। पुलिस की पूछताछ में पता चला कि आसिफ की हत्या महज एक मोबाइल के मेमोरी कार्ड के पीछे हुई है जिसकी कीमत सिर्फ 40 रुपये थी।

SP ग्रामीण अखिलेश नारायण ने बताया कि पकड़े गए नाबालिग किशोर से पूछताछ में पता चला कि उसने आसिफ से एक मेमोरी कार्ड खरीदा था जिसकी कीमत 100 रुपये थी। एडवांस में आरोपी ने 40 रुपये आसिफ को दे दिए थे। आसिफ बाकी बचे पैसों की या पैसे नहीं तो मेमोरी कार्ड वापसी का तगादा आए दिन कर रहा था। बस यही बात नाबालिग हत्यारोपी को नागवार गुजरी और उसने मृतक आसिफ की हत्या की पटकथा लिख दी।

उसने आसिफ को स्कूल से छुट्टी के बाद गांव के बाहर एक सरसों के खेत में बुलाया कि मैं तेरा मेमोरी कार्ड वापस कर दूंगा। इसी को लेकर आसिफ स्कूल से घर जाने के बाद सीधे हत्यारोपी के पास सरसों के खेत में पहुंच गया और नाबालिग हत्यारोपी ने आसिफ की उसी की बेल्ट से गला दबाकर हत्या कर दी। अब हत्यारोपी किशोर को पुलिस की हिरासत में जुवेनाइल कोर्ट में भेजा जा रहा है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*