Home आगरा विवि परीक्षा में नकल एवं पैसे लेने के वायरल ऑडियो पर उच्च शिक्षा मंत्री हुए सख़्त, दिए ये निर्देश

विवि परीक्षा में नकल एवं पैसे लेने के वायरल ऑडियो पर उच्च शिक्षा मंत्री हुए सख़्त, दिए ये निर्देश

by admin
Many officials including former Vice Chancellor of Agra University accused of cheating, investigation started

अगर। डाॅ. भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय की परीक्षाओं के सन्दर्भ में प्रतियोगिता परीक्षाओं की कापियाँ बदलने, पंगत में बैठकर हो रही परीक्षा, परीक्षा में पैसे के लेन-देन के ऑडियो वायरल होने के मामले को उच्च शिक्षा मंत्री योगेंद्र उपाध्याय ने अति गंभीरता से लिया है। उच्च शिक्षा मंत्री ने आगरा विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर विनय पाठक, कुलसचिव विनोद कुमार सिंह और परीक्षा नियन्त्रक ओमप्रकाश के साथ वार्ता की। परीक्षाओं को नकल विहीन और सुचितापूर्वक सम्पन्न कराये जाने हेतु कडे़ निर्देश दिये।

उच्च शिक्षा मंत्री योगेंद्र उपाध्याय ने कहा कि जो भी परीक्षा केन्द्र अनियमित्ता में लिप्त है। उसके प्रति कड़ी विभागीय कार्यवाही और अपराधिक कार्यवाही के निर्देश दिये है। जिस क्रम में –

  1. परीक्षा केन्द्रों के सीसीटीवी कैमरे लिंक कराने हेतु विश्वविद्यालय में सीसीटीवी नियंत्रण निगरानी कक्ष स्थापित किया गया है, जिसकी माॅनिटरिंग शिक्षकों द्वारा प्रतिदिन किये जाने के निर्देश दिये।
  2. कुलसचिव ने बताया कि मंत्री द्वारा शिकायत प्राप्त होने पर पर्यवेक्षक नियुक्त कर, पर्यवेक्षक की रिपोर्ट के आधार पर परीक्षा केन्द्र क्रमशः 1. महाराणा प्रताप काॅलेज ऑफ एजुकेशन, किरावली, आगरा (626), 2. बाबा भीमसैन महाविद्यालय, राॅल, मथुरा (1092), 3. श्री यशपाल सिंह महाविद्यालय, मांट, मथुरा (659) को निरस्त किया गया।
  3. ऑडियो वायरल होने पर एस आर डिग्री काॅलेज, उखर्रा, आगरा (294) का परीक्षा केन्द्र निरस्त किया गया।
  4. सीसीटीवी माॅनिटरिंग के दौरान संदिग्ध स्थिति होने पर छः परीक्षा केन्द्र क्रमशः 1. आर सी बी डिग्री काॅलेज, राया मथुरा (154), 2. बाबूराम यादव (पीजी) काॅलेज, करहल, मैनपुरी (171), 3. श्री सुरेश चन्द सिंघल मेमोरियल महाविद्यालय आगरा (580), 4. श्री भवानी सिंह महाविद्यालय, आगरा (721), 5. चै0 सूरज सिंह महाविद्यालय, मैनपुरी (253), 6. एसबीएस काॅलेज, फालोन, छाता, मथुरा (744) पर पर्यवेक्षक नियुक्त किये गये जिनकी निगरानी में परीक्षायें सम्पन्न करायी जा रही है।

विभागीय कार्यवाही के अतिरिक्त सभी प्रकरणों के आरोपियों के विरूद्ध एफआईआर कराने के निर्देश दिये गये हैं।

उच्च शिक्षा मंत्री योगेन्द्र उपाध्याय ने आगरा के एसएसपी प्रभाकर चौधरी से सर्किट हाउस में भेंट करते हुए स्पष्ट निर्देश दिये कि किसी भी कीमत पर शिक्षा को माहौल बिगाड़ने वाले अपराधिक तत्व के लोग बख्शे न जायें। इन अपराधिक कार्यों की गहरायी से जांच हो और शिक्षा क्षेत्र अथवा बाहरी क्षेत्र के चाहे जितने प्रभावशाली व्यक्ति लिप्त पाये जाये, उनकी गहराई से जांच कर उनके विरूद्ध सुसंगत धाराओं में कार्यवाही की जाये।

इसके लिए सोशल टीम गठित करके जांच को गति प्रदान की जाये और काॅपी बदलने के प्रकरण में आवश्यक हो तो हेंडराईटिंग एक्सपर्ट और ऑडियो प्रकरण में वाॅयस एक्सपर्ट से मशविरा कर लिया जाये। सम्पूर्ण प्रकरण को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को अवगत कराकर कड़ी कार्यवाही की जाये।

Related Articles

Leave a Comment

%d bloggers like this: