Home आगरा गौरा के रचे दोनों हाथ मेहंदी रंग लाई, गीतों पर झूमीं महिलाएं

गौरा के रचे दोनों हाथ मेहंदी रंग लाई, गीतों पर झूमीं महिलाएं

by admin

आगरा। ‘श्रीहरि के नाम की मेहंदी और ढोलक की थाप पर भक्ति के स्वर। भक्तिमय उत्साह और उमंग का कुछ सा ही नजारा था श्री गिरिराज जी सेवा मण्डल द्वारा आयोजित मेहंदी उत्सव में।’ श्रीगिरिराज जी सेवा मण्डल द्वारा गोवर्धन में 25-26 दिसम्बर को आयोजित हो जा रहे छप्पन भोग महोत्सव के उपलक्ष्य में मेहंदी उत्सव का आयोजन वॉटर वर्क्स स्थित अतिथि वन में किया गया। जहां मण्डल के सभी सदस्यों ने श्रीहरि के नाम की मेहंदी रचवाई।

विध्नविनाशक गणपति की आराधना के साथ प्रारम्भ हुआ मेहंदी उत्सव में भक्तिमय भजनों के साथ मेहंदी के गीतों की भी उमंग शामिल थी। बालों में गजरा, हाथों में मेहंदी और होठों पर गिरिराज जी महाराज के भजन। मेरा दिल दीवाना हो गया वृन्दावन की गलियों में… कन्हैया ले चल पल्ली पार…, मेरे बांके बिहारी लाल, मन रखियों अपने चरनन में…, राधे मुझको तेरा बड़ा सहारा है… जैसे भजनों के भक्तिमय स्वर। इसके साथ मेहंदी के गीतों पर महिलाओं ने खूब नृत्य किया।

वहीं मण्डल के संस्थापक नितेश अग्रवाल ने सभी शहरवासियों को छप्पन भोग महोत्सव के लिए आमंत्रित किया।

इस अवसर पर मुख्य रूप से आशी अग्रवाल, शिवानी अग्रवाल, रुचि बंसल, ज्योति मित्तल, कल्पना जैन, कविता अग्रवाल, साक्षी जैन, रेनू बंसल, रेखा माहेश्वरी आदि उपस्थित थीं।

Related Articles

Leave a Comment

%d bloggers like this: