Home आगरा मीट एट आगरा 2022 में रखी गई 20 हजार करोड़ के कारोबार की आधारशिला

मीट एट आगरा 2022 में रखी गई 20 हजार करोड़ के कारोबार की आधारशिला

by admin
  • 5731 ट्रेड विजिटर्स के साथ कुल 21400 विजिटर्स ने की शिरकत
  • बारिश का विपरीत मौसम भी न कम कर सका विजिटर्स का हौसला

आगरा। फुटवियर मैन्युफेक्चरर्स एंड एक्सपाेर्टर्स चेंबर (एफमेक) द्वारा आयोजित मीट एट आगरा 2022 का रविवार को समापन हो गया। गांव सींगना पर बने आगरा ट्रेड सेंटर पर आयोजित इस फेयर के तीसरे दिन इसकी सफलता से उत्साहित आयोजकों ने अगले साल आयोजित होने वाले फेयर की तारीखों की घोषणा करते हुए इस वर्ष के बेस्ट स्टॉल धारकों को सम्मानित किया।

आधुनिक मशीनरी से जूता बनाने में आया क्रांतिकारी परिवर्तन

मीट एट आगरा के एग्जिविशन हाल के आकर्षक स्टॉल्स पर लगीं मशीने जो खुद ही जूता कारोबार से जुड़े लोगों को अपनी और आकर्षित कर रही थी, कारोबारियों की जिज्ञासाओं का जब स्टाल पर पहुंचकर पर्दा उठता था तो नवीन तकनीक हर किसी को हैरान कर रही थी। दुबई जैसे देशों के फेयर का मुकाबला कर रहे मीट एट आगरा में लोगों को एक छत के नीचे जूता ट्रेड में आये हर बदलाव से रूबरू होने का मौक़ा मिला। जूता कारोबारी और एफमेक से जुड़े सुनील जोशन ने कहा की ये आयोजन आज भारत के जूता कारोबारियों की जरुरत बन गया।

इस मौके पर एफमेक अध्यक्ष पूरन डावर ने कहा कि तेजी से बढ़ते तकनिकी युग में जूता कारोबार में क्रन्तिकारी परिवर्तन आये हैं। फुटवियर मेटेरियल की बात करें तो आज जूता केवल लेदर तक सीमित नहीं है। कई प्रकार के मेटेरियल से बने फुटवियर आज प्रचलन में हैं। वहीं आधुनिक मशीनरी ने इसमें कई तरह के रचनात्मक वदलाव किये हैं। आज हजारों किस्म की डिजाइन फुटवियर को आकर्षक बना रही हैं।

उम्मीद से कई गुना अधिक रहा रेस्पोंस

एफमेक उपाध्यक्ष राजेश सहगल ने कहा कि इस बार मीट एट आगरा कोरोना महामारी के चलते 2 साल बाद आयोजित हुआ है। उम्मीद से कई गुना अधिक इसको इंडस्ट्री का सपोर्ट मिला है। लोगों में इसके आयोजन की तरीखों की घोषणा करते ही जिस प्रकार का उत्साह देखने को मिला था, वह यह समझने के लिए पर्याप्त है कि मीट एट आगरा आज देश के जूता निर्यातकों की आवश्यकता बन गया है।

एक्सप्लोर करने का एक अच्छा माध्यम

एफमेक महासचिव राजीव वासन ने कहा कि किसी भी ट्रेड में आगे बढ़ने के लिए जरुरी है कि हम समय के साथ खुद को अपडेट रखें। मीट एट आगरा देश के जूता निर्माताओं और निर्यातकों को खुद को एक्सप्लोर करने का एक अच्छा माध्यम बन गया है। इस प्रकार के आयोजन देश की आर्थिक प्रगति में सहायक होते हैं।

15वें मीट एट आगरा की तारीखों का हुआ एलान

अगले साल आयोजित होने वाले फेयर की 20 -21 और 22 अक्टूबर 2023 को होगा। तारीखों की घोषणा करते हुए एफमेक अध्यक्ष पूरन डावर ने कहा कि इस फेयर का आयोजन सप्लाई चैन को मजबूत करने के उद्देश्य से किया जाता है। दुनियां के अन्य फेयर की तुलना में ये फेयर कई मायने में खास है विश्व के 45 देशों की एग्जीबिटर्स की भागीदारी इस आयोजन के प्रति लोगों की उत्सुकता को दर्शाती है।

मीट एट आगरा 2022 आँकड़े

• कुल देशों की भागीदारी : 45
• एग्जीबिटर्स : 150
• स्टॉल्स कुल 240
• अनुमानित कारोबार -: 20 हजार करोड़
• कुल विजिटर्स 21400
• कुल रजिस्टर्स ट्रेड विजिटर्स 5731
• भावी उद्यमी विजिटर्स : 4200

मीट एट आगरा 2022 के मौके पर बेस्ट स्टॉल इन इनोवेटिव प्रोडक्ट्स और बेस्ट स्टॉल इन प्रजेंटेशन केटेगरी में स्टॉल धारकों को सम्मानित किया गया।

इनको मिला पुरुस्कार

बेस्ट स्टॉल इन इनोवेटिव प्रोडक्ट्स केटेगरी

• इमेजिन फाइबर्स प्राइवेट लिमिटेड
• एआरएस इंडिया

बेस्ट स्टॉल इन प्रजेंटेशन केटेगरी

• अलर्ट इंडिया प्राइवेट लिमिटेड

बेस्ट स्टॉल इन मॉल्टी प्रोडक्ट्स केटेगरी

• सरीन इंटरप्राइजेज

इस मौके पर कन्वीनर कैप्टन एएस राना, एफमेक उपाध्यक्ष राजेश सहगल, गोपाल गुप्ता, महासचिव राजीव वासन, सचिव ललित अरोड़ा, सुनील जोशन, ओपिंदर लवली, सीफटीआई के निदेशक सनातन साहू, चंद्र शेखर जीपीआई सीसीएलए के अजय शर्मा, ब्रजेश शर्मा आदि विशेष रूप से मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Comment

%d bloggers like this: