Home देश-विदेश पंचतत्व में विलीन हुए पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह, राजकीय सम्मान के साथ दी गई अंतिम विदाई

पंचतत्व में विलीन हुए पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह, राजकीय सम्मान के साथ दी गई अंतिम विदाई

by admin
Former Chief Minister Kalyan Singh merged with Panchatattva, was given the last farewell with state honors
Spread the love

राम मंदिर आंदोलन के प्रणेता यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह पंचतत्व में विलीन हो गए। उनका अंतिम संस्कार बुलंदशहर जनपद के नरौरा में गंगा तट पर बासी घाट पर किया गया। बेटे राजवीर ने उन्हें मुखाग्नि दी। राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार से पहले रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, सीएम योगी, डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने पुष्प चक्र चढ़ाकर श्रदांजलि दी।

शनिवार को लखनऊ के एसजीपीजीआई में लंबी बीमारी के बाद कल्याण सिंह निधन हो गया था। उनके निधन के बाद रविवार को उनका पार्थिव शरीर लखनऊ स्थिति भाजपा कार्यालय पर रखा गया था, जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा, सहित सत्ता पक्ष और विपक्षी नेताओं ने उन्हें श्रद्धांजलि दी। वहीं आज उनके गृह जिले अलीगढ़ के अहिल्याबाई होल्कर स्टेडियम में रखा गया, जहां प्रदेश, जिले सहित कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित किए। उनके पार्थिव शरीर को उनकी कर्मभूमि अलीगढ़ से उनकी जन्मभूमि पैतृक गांव अतरौली लाया गया, जहां उनके अंतिम दर्शन को लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। अंतिम संस्कार से पूर्व गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया।

अलीगढ़ से नरौरा तक पूरे रास्ते उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह शव वाहन के पीछे कार से चलते रहे। जैसे ही पार्थिव देह नरोरा स्थित बांसी घाट पहुंचा, वहां मौजूद लोगों ने जननायक कल्याण सिंह अमर रहे, राम भक्त कल्याण सिंह अमर रहे, जैसे नारे लगाने शुरू कर दिए और कार्यकतार्ओं में उनके शव पर पुष्पांजलि अर्पित करने की होड़ लग गई। भीड़ को संभालने में पुलिस को मशक्कत करनी पड़ी तो खुद सीएम योगी ने माइक लेकर लोगों को अपने स्थान से ही श्रद्धांजलि अर्पित करने की अपील करनी पड़ी।

गृहमंत्री अमित शाह ने भी अलीगढ़ के अतरौली पहुंचकर अहिल्या बाई स्टेडियम में कल्याण सिंह के अंतिम दर्शन किये और उन्हें श्रद्धांजलि दी। राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, पूर्व केंद्रीय मंत्री उमा भारती समेत तमाम केंद्रीय व प्रदेश सरकार के मंत्री, सांसद, विधायक व नेता भी यहां पहुंचे।

शनिवार की रात निधन के बाद लखनऊ में पीएम मोदी भी श्रद्धांजलि देने पहुंचे। रविवार को कल्याण सिंह का पार्थिव देह एयर एंबुलेंस से लखनऊ से अलीगढ़ के धनीपुर एयरपोर्ट लाया गया था। वहां से अहिल्याबाई होल्कर स्टेडियम ले जाया गया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सतत निगरानी में यहां पर लोग कल्याण सिंह की पार्थिव देह का अंतिम दर्शन करते रहे।

इस मौके ओर केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा, “बाबूजी का जाना भाजपा के लिए एक बड़ी क्षति है। उन्होंने जो शून्य छोड़ा है उसे भरना मुश्किल होगा। राम मंदिर के शिलान्यास समारोह के बाद उन्होंने कहा था कि उनके जीवन का लक्ष्य पूरा हो गया है। राम जन्मभूमि आंदोलन के लिए उन्होंने बिना सोचे-समझे सीएम पद छोड़ दिया।”

यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने कहा, “राम मंदिर निर्माण में उनके योगदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता। अयोध्या में राम जन्मभूमि की ओर जाने वाली सड़क का नाम यूपी के पूर्व सीएम कल्याण सिंह के नाम पर रखा जाएगा। अयोध्या के अलावा लखनऊ, प्रयागराज, बुलंदशहर और अलीगढ़ में एक-एक सड़क का नाम उनके नाम पर रखा जाएगा।” अधिकारियों को तत्काल प्रभाव से दस्तावेजों का मसौदा तैयार करने का निर्देश दिया गया है।”

Related Articles