वाल्मीकि समाज के बच्चे से छू जाने पर दबंगों ने परिवार पर बरपाया क़हर, पुलिस भी दवाब में

Dabangs inflicted havoc on the family after touching the child of Valmiki society, police also under pressure

Agra. भले ही हम 21वीं शताब्दी में जी रहे हो लेकिन आज भी कुछ लोग छुआ छूत और जातिवाद से पनपी ऊंच नीच जैसी रूढ़ीवादी परंपराओं को छोड़ नही पाए है। ऐसा ही एक मामला थाना मनसुख पुरा क्षेत्र से सामने आया है। जहाँ एक पीड़ित परिवार न्याय पाने के लिए दर दर भटक रहा है तो वहीं दबंगो की दहशत में जी रहा है। बताया जाता है कि छुआछूत का विरोध करने पर दबंगों ने दलित महिला को दौड़ा दौड़ाकर पीटा। पीड़ित ने इसकी शिकायत पुलिस से की तो पुलिस ने भी कोई ठोस कार्यवाही नहीं की बल्कि गिरफ्तार करने के बाद पुलिस ने उसे यह कहकर छोड़ दिया कि गांव का दबाव था। इस घटना से पीड़ित परिवार दहशत में है।

यह पूरा मामला थाना मनसुख पुरा क्षेत्र का है। घटना मार्च की बताई जा रही है। आरोप है कि गांव जगतपुरा निवासी मुकेश वाल्मीकि के पांच साल के बच्चे से छू जाने को लेकर गांव के दबंगों रामगोपाल, शत्रुघ्न और कल्लू ने बच्चे को मारा और उसका विरोध किया तो दबंगों ने दलित महिला व परिजनों को लाठी डंडों से जमकर पीटा।

इस घटना में परिवार के लोगों की गंभीर चौट आई। पीड़ित दलित महिला रुकमणी ने दबंगों के खिलाफ थाने में तहरीर दी लेकिन पीड़िता की कोई सुनवाई नहीं हुई। पीड़िता ने बताया कि पुलिस ने सिर्फ खानापूर्ति के लिए उसे गिरफ्तार किया और कुछ देर बाद उसे छोड़ दिया। जब थानेदार से पूछा तो उसने कहा कि गांव का दवाब है। पीड़िता ने सीओ पिनाहट से शिकायती की तो उन्होंने भी सुनवाई नही की बल्कि मामले को निपटाने की सलाह दे दी और समझौते के लिऐ दबाव बना रहे है।

पीड़ित दलित परिवार ने एसएसपी आगरा, मुख्यमंत्री उ प्र, महिला आयोग, एससी एसटी आयोग में भी लिखित शिकायत कर दी है। इस घटना से वाल्मीकि समाज में आक्रोश व्याप्त है। बहुजन महा सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौ विवेक वाल्मीकि ने पीड़ित परिवार को इंसाफ दिलाने के लिए सीओ पिनाहट के खिलाफ मोर्चा खोलने की चेतावनी दी है। उन्होंने कहा कि अगर पीड़ित परिवार को न्याय नहीं मिला तो सड़कों पर वाल्मीकि समाज उतरेगा।

About admin 6674 Articles
मून ब्रेकिंग एक ऐसा न्यूज़ चैनल है जिसकी कोशिश हर ख़बर या घटना की जानकारी पूरी सत्यता के साथ और जल्द से जल्द आप तक पहुँचाने की है। मून ब्रेकिंग की शुरुआत सितम्बर 2017 से हुई है। मून ब्रेकिंग आपको नेट के जरिये देश-दुनिया, क्राइम, राजनीति, लाइफस्टाइल और मनोरंजन आदि से जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध करायेगा। साथ ही किसी घटना पर प्रतिक्रिया देने या आपकी आवाज़ बुलंद करने के लिए मून ब्रेकिंग एक साझा मंच भी प्रदान करता है।