गैस रिसाव से नष्ट हुई फसल की हुई जाँच, किसान नेताओं ने माँगा उचित मुआवज़ा

फतेहाबाद। विगत 31 दिसंबर की रात को घाघपुरा स्थित गार्गी कोल्ड स्टोर से गैस रिसाव के बाद नष्ट हुई करीब 1000 बीघा आलू की फसल के नुकसान की जांच करने के लिए सोमवार को जिला उद्यान विभाग और कृषि विभाग के अधिक‌ारी आरबीएस कॉलेज के कृषि वैज्ञानिकों के साथ घाघपुर, सलेमपुर, मुड़िया और मोहमदपुर गांव पहुँचे। इस गांव के खेत में पहुँच अधिक‌ारियों ने फसल के नुकसान का आंकलन किया और अपनी रिपोर्ट तैयार की।

टीम अपनी रिपोर्ट जिलाधिकारी आगरा को सौंपेगी। इस रिपोर्ट के आधार पर ही बुधवार को तहसील फतेहाबाद पर मुआवजा तय किया जायेगा। इस टीम के साथ मौजूद किसान नेता श्याम सिंह चाहर ने कहा कि गैस के रिसाव से आलू की फसल पूरी तरह नष्ट हो चुकी है। आलू पहले से ही किसानो को रुला रहा है और फसल नष्ट होने से इन किसानों की कमर टूट गयी है।

आने वाले समय में किसान भुखमरी के कगार पर पहुुंच सकता है। उन्होंने 80000 रूपये प्रति हेक्टेयर की दर से मुआवजा दिलवाये जाने की मांग प्रशासन से की है। टीम में राजवीर लवानियां, विशुन कटारा, अवतार सिंह, राजेंद्र सिंह सहित सैकडों की संख्या में लोग उपस्थित रहे।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*