पुलिस के हत्थे चढे सुपारी किलर, जानिये किसकी हत्या को देना था अंजाम

मथुरा। स्वाट टीम व सदर पुलिस ने बीतीरात गोकुल बैराज मोड़ से सुपारी लेकर हत्या करने वाले आकाश गैंग के पांच सदस्यों को धर दबोचा। सुपारी किलर के पास से असलाह, कार व मोटरसाइकिल बरामद हुुई। सुपारी किलर ने मानसिंह नाम के युवक की हत्या के लिए ढाई लाख रूपए की सुपारी ली थी। पुलिस ने सभी के खिलाफ क़ानूनी कार्यवाही को अंजाम देकर जेल भेज दिया है

सुपारी किलर के पकड़े जाने को लेकर पुलिस प्रशासन की ओर से प्रेसवार्ता का आयोजन किया गया। एसपी सिटी श्रवण कुमार सिंह ने बताया कि मुखबिर से सूचना मिली थी कि लुटेरा आकाश गैंग के सदस्य सुपारी लेकर फरह के गांव नगला अबुआ निवासी मान सिंह की हत्या करने की फिराक में गोकुल बैराज मोड़ पर खड़े है तभी घेराबन्दी कर इस गैंग को धर दबोच लिया।

एसपी सिटी ने बताया कि नगला अबुआ फरह निवासी मानसिंह व खड़क सिंह में जमीनी विवाद को लेकर रंजिश चल रही है, जिसके विवाद में खड़क सिंह जेल भी जा चुका है। वह जेल से छूटने के बाद अपनी बहन के मकान पर किराये पर रह रहा है। खड़क सिंह ने महावन के गांव गढी रामप्रसाद निवासी हेमंत पुत्र ताराचंद के साथ मिलकर मान सिंह की हत्या करने की योजना बनाई। हेमंत ने अपने साथी गांव सिहोरा जमुना पार निवासी चंद्रपाल, शिवम पुत्र दलवीर निवासी ईएमएस कालोनी थाना कोतवाली, मनोज उर्फ भोला पुत्र पूरन निवासी गांव सिहोरा से खड़क सिंह ने मिलवाया था।

मानसिंह की हत्या के लिए ढाई लाख रुपये की सुपारी खड़क सिंह ने आकाश को दी थी। एसपी सिटी ने बताया कि मान सिंह को 29 मई के दिन जमीनी विवाद की तारीख करने न्यायालय मथुरा आना था, परंतु न्याय कार्य की कंडोलेंस होने के कारण वह तारीख पर नहीं आया था। अगले दिन सुपारी किलर फिर हत्या का षडयंत्र तैयार करने से पूर्व ही एसओजी प्रभारी हरवेन्द्र मिश्रा की टीम ने मुखबिर की सूचना पर धर दबोचा।

सुपारी किलर हत्या को एक्सीडेंट का रूप देने की फिराक में थे जिसकी पूरी तैयारी भी कर ली गयी थी। पुलिस ने इनके कब्जे से सुपारी के एडवांस 17080 रुपय, दो चाक, एक तमंचा, एक इनौवा कार, पल्सर मोटर साइकिल बरामद की है। उन्होंने बताया कि आकाश जमुना पार का एक शातिर लुटेरा है। इस पर विभिन्न थानों में एक दर्जन मुकदमें पंजीकृत हैं। इन पकड़े गए अपराधियों पर गैंगस्टर की कार्यवाही कर जेल भेज दिया है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*