Home आगरा पिनाहट डबल मर्डर : व्यापारियों में दहशत, बाजार बंद रख जताया आक्रोश

पिनाहट डबल मर्डर : व्यापारियों में दहशत, बाजार बंद रख जताया आक्रोश

by admin
Pinahat Double Murder: Panic among traders, expressed outrage by keeping the market closed

आगरा। थाना पिनाहट के मोहल्ला मार क्षेत्र में तेल मिल व्यवसाई दम्पत्ति सुरेश चंद्र गुप्ता (75 वर्ष) एवं कृष्णादेवी (72 वर्ष) की हत्या व लूट के बाद समूचे क्षेत्र में भारी दहशत का माहौल है। शोक में समूचा बाजार दिनभर बंद रहा तो वहीं क्षेत्र में डबल मर्डर की दूसरी घटना से लोगों में भारी आक्रोश भी दिखा। मौके पर पहुंचे एसएसपी आगरा प्रभाकर चौधरी ने घटना के जल्द खुलासे व दोषियों पर कडी कार्यवाही का आश्वासन देते हुए तीन टीम गठित कर दी है।

बताते चलें कि पिनाहट कस्बा में हत्या का कोई नया मामला नहीं है। पूर्व में भी 24 नवंबर 2019 को कस्बा के कपड़ा व्यवसाई वीरेंद्र गुप्ता की पत्नी वीरवती की दिनदहाड़े बदमाशों ने डकैती कर घर में घुसकर हत्या कर दी थी। जिसका खुलासा पुलिस ने किया था। एक बार फिर व्यापारी वर्ग को निशाना बनाया गया है जिसे लेकर व्यापारियों में भारी आक्रोश दिखा। आक्रोशित व्यापारियों ने बाजार बंद कर मामले के खुलासे की मांग की है।

बदमाशों ने डबल मर्डर की घटना को दिया अंजाम

कस्बा पिनाहट में शनिवार की रात को अज्ञात बदमाशों द्वारा गल्ला व्यापारी सुरेश चंद गुप्ता और उनकी पत्नी कृष्णा देवी की घर में घुसकर हत्या कर लूटपाट कर ली गई। दोनों पति पत्नी के शव घर के कमरे में खून से लथपथ पड़े मिले जिससे कस्बा सहित क्षेत्र में सनसनी फैल गई। कस्बा के थाने से महज 200 मीटर की दूरी पर बदमाशों ने इस बड़ी घटना को अंजाम दिया। और हत्या और लूटपाट कर आसानी से निकल गए। मृतक के पुत्र मुकेश गुप्ता ने अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या करने व करीब 25 तोले सोना, सात किलो चांदी व 15 नगद लूट कर ले जाने की तहरीर दी।

दहशत से पलायन को मजबूर व्यापारी वर्ग

पिनाहट में व्यापारी वर्ग के साथ दूसरी हत्या व लूट की घटना से व्यापारियों भारी आक्रोश दिखा। उनका मानना है कि अब पिनाहट में रहना असुरक्षा है।इसलिये अब यहां से पलायन करने पर ही जीवन सुरक्षित होगा।

आगरा में पुत्र से मिलकर आया था व्यापारी

कस्बा पिनाहट के मोहल्ला मार निवासी गल्ला व्यापारी सुरेश चंद गुप्ता आगरा में रह रहे अपने पुत्र मुकेश गुप्ता से शनिवार को मिलकर शाम करीब 4:30 बजे पिनाहट लौटे थे। जहां व्यापारी ने 7:30 बजे तक अपनी सरसों के तेल मिल और दुकान को खोला था। उसके बाद दुकान और तेल मिल को बंद करके वह घर चला गया। सुबह दोपहर 11:00 बजे तक पति पत्नी दिखाई नहीं दिए तो पड़ोसियों को शक हुआ देखा तो दोनों के शव खून से लथपथ पड़े हुए थे जिसकी सूचना तत्काल पुलिस को दी गई मौके पर पहुंची पुलिस ने घटना की जानकारी लेकर मामले की जांच शुरू कर दी।

6 भाइयो मे दूसरे नंबर के थे सुरेश चन्द्र

सुरेश चन्द्र गुप्ता 6 भाई थे।जिनमे संतोषी लाल, सुरेश, राजेन्द्र, सत्यप्रकाश, विजय, अशोक जिनमें संतोषी लाल व विजय की पहले ही मृत्यु हो चूकी है। सुरेश चंद्र गुप्ता के एक बेटा मुकेश व दो बेटी नीलम व रजनी जिनकी शादी हो चूकी है।

पति के सिर मे चोट व पत्नी के गले पर मिले निशान

रविवार सुबह करीब 11 बजे जब पड़ोसियों ने घर का दरवाजा खुला देखा। घर के अंदर कोई चहल कदमी नही दिखी तो अंदर जाकर देखने पर मुख्य द्वारा खुला पडा मिला व अंदर का सरियो का गेट नीचे टूटा मिला। लोगों की माने तो मकान के दाईं ओर से दीवार चढकर हत्यारे आये होंगे।

बंटवारे को लेकर चल रहा है पारिवारिक विवाद

जानकारों की माने तो सुरेश चन्द्र गुप्ता के 6 भाइयों मे घर के व दुकान के बंटवारे को लेकर आपस मे विवाद चल रहा है। जिसका मामला कोर्ट में विचाराधीन है। विलाप करते हुए परिजन परिवार के लोगों पर भी आरोप लगाते रहे।

Related Articles

Leave a Comment

%d bloggers like this: