प्राकृतिक क़हर की चोट सबसे ज्यादा इस क्षेत्र में पड़ी

आगरा। बुधवार को कहर बनकर आई आंधी का तबाही का मंजर सभी जगह देखने को मिल रहा है। छावनी क्षेत्र में इस प्राकृतिक आपदा का कहर सबसे ज्यादा टूटा है। ग्रीन आगरा क्लीन आगरा की दृष्टि से छावनी क्षेत्र में हजारों की संख्या में हरे वृक्ष लगे थे। सभी पेड़ इस आधी की चपेट में आकर जमींदोज हो गए है।

छावनी परिषद के सीईओ M वेंकट नरसिम्हा रेड्डी ने बताया की अभी तक मेन सड़कों पर उखड़े और टूटे पेड़ों को हटाने का कार्य चल रहा है। उसके बाद कितना नुकसान हुआ उसका सही आकलन किया जाएगा। अभी तक एक अनुमान के अनुसार 3.30 करोड़ से चार करोड़ के बीच का नुकसान दिख रहा है। छावनी परिषद की बैठक बुलाने के दौरान ही तय कर पाएंगे कि इसकी भरपाई के लिए क्या किया जाए।

छावनी इंटर कॉलेज और रेनबो पब्लिक स्कूल मैं इस तबाही के मंजर से अधिक नुकसान हुआ है। पेड़ टूट कर बाउंड्री पर गिर पड़े और बिजली की हाईटेंशन लाइन भी टूटने से बच गई। गनीमत रही की कोई हादसा नहीं हुआ। जब आंधी आई तो उस वक्त विद्यालय बंद थे।

About admin 5874 Articles
मून ब्रेकिंग एक ऐसा न्यूज़ चैनल है जिसकी कोशिश हर ख़बर या घटना की जानकारी पूरी सत्यता के साथ और जल्द से जल्द आप तक पहुँचाने की है। मून ब्रेकिंग की शुरुआत सितम्बर 2017 से हुई है। मून ब्रेकिंग आपको नेट के जरिये देश-दुनिया, क्राइम, राजनीति, लाइफस्टाइल और मनोरंजन आदि से जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध करायेगा। साथ ही किसी घटना पर प्रतिक्रिया देने या आपकी आवाज़ बुलंद करने के लिए मून ब्रेकिंग एक साझा मंच भी प्रदान करता है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*