फिर चर्चाओ में मुंशीदास का परिवार

फतेहाबाद। डौकी थाना क्षेत्र के ग्राम नरि में बाबा मुंशीदास के परिवार की एक महिला की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गयी। मृतका के भाई ने मृतका के जेठ पर हत्या का आरोप लगाया है। वहीं पुलिस को कोई भी तहरीर नहीं मिली है। पुलिस ने मृतका के शव का पंचनामा भर पीएम के लिए भेज दिया। प्राप्त जानकारी के अनुसार डौकी के ग्राम नरि निवासी बाबा मुंशीदास के भाई रामदीन की पुत्रवधू रामवेटी 28 वर्ष पत्नी कालीचरन की गांव में उसके घर में संदिग्ध अवस्था में पंखे से लटकी हुई लाश मिली।

घटना की सूचना मिलते ही डौकी पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच पड़ताल शुरु कर दी की। घटना के बाद पहुंचे मृतका के भाई डोरी लाल पुत्र सुखलाल निवासी रसूलाबाद नगला सिंगी फिरोजाबाद ने मृतका के जेठ वीरी सिंह पर हत्या का आरोप लगाया।

उसका कहना था कि रामबेटी के पति कालीचरन की जमीन पर भी वीरी ‌सिंह ही खेती करता था। जब वह हिस्सा मांगते तो कालीचरन व रामबेटी को मारता-पीटता था। बुधवार सुबह जब घटना की जानकारी हुई तो ग्रामीण मौके पर इकठ्ठे हो गये। घटना के बाद पुलिस ने मृतका के शव को पीएम के लिए भेज दिया।

वहीं मृतका का पति कालीचरन व जेठ वीरी सिंह भाग गये। घटना के संदर्भ में क्षेत्राधिकारी डा. तेजवीर सिंह का कहना है कि प्रथम दृष्टया मामला हत्या का प्रतीत होता है। मामले ‌की तहरीर आते ही मुकदमा कायम कर कार्यवाही की जायेगी।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*