श्रीमद् भागवत कथा के रसपान के लिये उमड़ा भक्तों का सैलाब

आगरा। विश्व कल्याण मिशन ट्रस्ट आगरा इकाई की ओर से शास्त्रीपुरम के देहतोर की बचत बगीचे पर चल रही राष्ट्रीय संत चिन्मयानंद बापू महाराज की श्रीमद् भागवत कथा के दूसरे दिन भी कथा स्थल पर भक्तों का जन सैलाब उमड़ता हुआ नजर आया। श्रीमद् भागवत कथा के रसपान पाने के लिए भारी संख्या में भक्त कथा स्थल पहुंचे हुए।

सात दिनों तक चलने वाली श्रीमद् भागवत कथा के दूसरे दिन राष्ट्रीय संत चिन्मयानंद बापू महाराज ने भक्तों को श्रीमद् भागवत कथा के महत्व और कलयुग में इसके प्रभाव की जानकारी उपलब्ध कराई। इसके साथ ही राष्ट्रीय संत चिन्मयानंद बापू महाराज ने भक्तों को ध्रुव और प्रहलाद की कथा का रसपान कराया।

चिन्मयानंद बापू महाराज प्रहलाद की कथा का श्रवण कराते हुए भक्तों को भक्ति की शक्ति के बारे में बताया। प्रहलाद का प्रसंग सुनाते हुए उन्होंने बताया कि भगवान विष्णु की सच्ची भक्ति के कारण ही प्रहलाद की रक्षा होती रही जबकि उसके पिता हिरण्या कश्यप भगवान विष्णु से घृणा करते थे और प्रहलाद को मारना चाहते थे। इसी भक्ति के कारण पहलाद की रक्षा करते हुए भगवान विष्णु ने नरसिंह का अवतार ले हिरण्यकश्यप का वध किया।

वहीँ ध्रुव की कथा कहते हुए बताया कि आज आसमान में जिस तरह से ध्रुव तारे के रूप में चमक रहा है वो भक्ति के कारण ही है।

विश्व कल्याण मिशन ट्रस्ट के जिलाध्यक्ष मुरारी लाल गोयल का कहना था कि आज कथा का दूसरा दिन है कथा का रसपान लेने के लिए काफी संख्या में भक्त पहुँचे है। ट्रस्ट की सदस्या सुमन गोयल ने बताया कि शांति भाव के साथ कथा का आयोजन चल रहा है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*