Home आगरा डॉ. शशि सिंह की साहित्यिक कृति ‘वतन की माटी’ का किया गया लोकार्पण, समीक्षकों ने की सराहना

डॉ. शशि सिंह की साहित्यिक कृति ‘वतन की माटी’ का किया गया लोकार्पण, समीक्षकों ने की सराहना

by admin

आगरा। ताज नगरी की प्रसिद्ध साहित्यिक संस्था साहित्य साधिका समिति द्वारा हिंदी पखवाड़े के उपलक्ष्य में रविवार को नागरी प्रचारिणी सभा के मानस भवन में पुस्तक लोकार्पण एवं सम्मान समारोह आयोजित किया गया। समारोह की मुख्य अतिथि डॉ. कमलेश नागर रहीं। ग्वालियर से पधारीं साहित्यकार मधूलिका सिंह ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की।

समारोह में साहित्य साधिका सम्मान-2022 साहित्यकार डॉ. रजनी सिंह (डिबाई) तथा सुधी शिक्षक सम्मान-2022 आदर्श शिक्षक प्रभा यादव (सिकंदराराऊ) को प्रदान किया गया। समारोह में शशि सिंह की कृति वतन की माटी का विमोचन किया गया। समीक्षक डॉ. सुषमा सिंह ने कृति की सराहना की।

मुख्य अतिथि डॉ. कमलेश नागर ने कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर वतन की माटी जैसी साहित्यिक कृति का एक अलग महत्व है। हमारे लिए वतन और उसकी माटी दोनों ही महत्वपूर्ण हैं।

अपने वक्तव्य में सम्मानित साहित्यकार डॉ. रजनी सिंह (डिबाई) ने कहा कि साहित्यकार संवेदनाओं के कोमल किसलय भावों से अक्षर रूपी ब्रह्म को निखार कर समाज में स्वर्णिम आलोक लुटाता है।

सम्मानित शिक्षक प्रभा यादव (सिकंदराराऊ) ने कहा कि शिक्षक पारस की भांति अपने ज्ञान की प्रतिभा से आलोक फैलाता है।

इससे पूर्व, अतिथियों तथा साधिकाओं द्वारा माँ वाणी को पुष्प अर्पित कर दीप प्रज्ज्वलित किया गया। मीरा परिहार ने वाणी वन्दना को स्वर देकर माँ का स्तवन किया। रमा वर्मा ‘श्याम’ ने सभी का भाव भरे शब्दों द्वारा स्वागत किया। प्रेम लता मिश्रा ने ‘ मैं हिन्दी हूँ ‘ एकांकी का मंचन कर कार्यक्रम में चार चाँद लगा दिए। समारोह का संचालन यशोधरा यादव ने किया।

समारोह में सविता मिश्रा, डॉ. सुनीता चौहान, विजया तिवारी, साधना वैद, मीरा परिहार, डॉ. आभा चतुर्वेदी, रेखा कक्कड़, डॉ. रेखा गौतम, डॉ. भावना, चारु मित्रा, प्रभा मेहरा, दिव्या चौहान, पूनम तिवारी, कमला सैनी और रेखा शर्मा के साथ ही शहर और देश के श्रेष्ठ साहित्यकारों में राजबहादुर सिंह राज, अशोक अश्रु, संजय गुप्त, विवेक यादव, सुधांशु साहिल की गरिमामयी उपस्थिति रही।

Related Articles

Leave a Comment

%d bloggers like this: