Home agra जिला अस्पताल: नेशनल क्वालिटी एश्योरेंस स्टैंडर्ड को दीवारों पर मिली धूल, लेटलतीफी पर जताई नाराजगी

जिला अस्पताल: नेशनल क्वालिटी एश्योरेंस स्टैंडर्ड को दीवारों पर मिली धूल, लेटलतीफी पर जताई नाराजगी

by admin
District Hospital: National Quality Assurance Standard found dust on the walls, expressed displeasure over the delay

Agra. नेशनल क्वालिटी एश्योरेंस स्टैंडर्ड ने किया जिला अस्पताल का निरीक्षण। रिपोर्ट न मिलने पर टीम ने जताई नाराजगी। दीवारों पर मिली धूल।

गुरुवार काे जिला अस्पताल में नेशनल क्वालिटी एश्योरेंस स्टैंडर्ड (एनक्वास) की टीम निरीक्षण करने पहुंची। एनक्वास की टीम राज्य स्तर पर जिला अस्पताल का निरीक्षण करने के लिए आई है।

दो दिवसीय चिकित्सकों की इस टीम में डॉक्टर रितु कात्याल और डॉक्टर अजीता जोशी शामिल हैं। टीम जिला अस्पताल पहुंची। मुख्य द्वार से लेकर पूरे अस्पताल का निरीक्षण शुरू कर दिया। सीएमएस डॉ. एके अग्रवाल और जिला अस्पताल के चिकित्सक से मिलने के बाद टीम ने भौतिक स्तर पर निरीक्षण शुरू कर दिया। इस दौरान उन्होंने ओपीडी देखी और मरीजों से वार्ता भी की।#AgraNews

एनक्वास की रिपोर्ट पर मिलता है एनक्यूएएस सर्टिफिकेट
नेशनल क्वालिटी एश्योरेंस स्टैंडर्ड (एनक्वास) की टीम द्वारा हर साल जिले व पीएचसी सेंटरों में सर्वे किया जाता है और इसी सर्वे के आधार पर रिपोर्ट तैयार की जाती है। इसी रिपोर्ट के आधार पर एनक्यूएएस सर्टिफिकेट दिया जाता है। इसके बाद केंद्र सरकार द्वारा विशेष ग्रांट भी अस्पताल को दी जाती है। गुरुवार को जिला अस्पताल का जो एनक्वास द्वारा निरीक्षण किया गया है, वो राज्य स्तरीय है। जिसकी रिपोर्ट राज्य सरकार को सौंपी जाएगी।

रिपोर्ट न मिलने पर नाराज डॉक्टर रितु कटिहार

नेशनल क्वालिटी एश्योरेंस स्टैंडर्ड की टीम ने प्रोजेक्टर के माध्यम से जिला अस्पताल प्रशासन द्वारा दी जा रही सुविधाओं की जानकारी ली। लेकिन इस बीच टीम की डॉक्टर रितु कात्याल ने एक रिपोर्ट मांगी। इस रिपोर्ट को आने में लगभग घंटा भर लग गया जिसके चलते रितु कटिहार काफी नाराज दिखाई दीं और उन्होंने हॉस्पिटल प्रशासन के चिकित्सक को आड़े हाथ ले लिया।

मरीजों से की बात, दीवार को भी देखा छूकर

नेशनल क्वालिटी एश्योरेंस स्टैंडर्ड की टीम में मौजूद डॉक्टर रितु ने जिला अस्पताल की व्यस्थाओं और सुविधाओं का जायजा लेने के साथ बिल्डिंग की स्थिति और सफाई व्यस्था का जायजा लिया। इस निरीक्षण के दौरान डॉ रितु ने ओपीडी के रूम में जाकर दीवारों को चेक किया तो दीवारों पर धूल धक्कड़ मिली जिस पर उन्होंने कई सवाल खड़े किये।

फार्मेसी का भी किया निरीक्षण
टीम की दूसरी सदस्य डॉ. अजीता जोशी ने जिला अस्पताल की फार्मेसी का निरीक्षण किया। उन्होंने दवाओं का रिकॉर्ड चेक किया साथ ही स्टॉक का कागजातों से मिलान किया। इसके साथ ही उन्होंने सर्जन की ओपीडी के साथ हड्डी विभाग की ओपीडी चेक की और मरीजों से वार्ता कर किस तरह का इलाज मिल रहा है। उसकी वास्तविक जानकारी ली।

खामियों को दूर करने के दिये निर्देश
राज्य स्तरीय निरीक्षण के लिए आई नेशनल क्वालिटी एश्योरेंस स्टैंडर्ड की टीम को इस दौरान कई खामियां मिली और खामियों को उन्होंने जिला अस्पताल प्रशासन को नोट भी कराया। साथ ही दूर कराने के भी निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि अभी निरीक्षण चल रहा है। यह तीन इन दिनों तक चलेगा। निरीक्षण पूरा होने के बाद ही वह कुछ बता पाएंगे।

Related Articles

Leave a Comment

%d bloggers like this: