Home राजनीति कांग्रेस यूपी चुनावी घोषणापत्र समिति ने आगरा में डाला डेरा, लोगों से सीधे रूबरू होकर जान रहे हैं समस्याएं

कांग्रेस यूपी चुनावी घोषणापत्र समिति ने आगरा में डाला डेरा, लोगों से सीधे रूबरू होकर जान रहे हैं समस्याएं

by admin
Congress UP election manifesto committee camped in Agra, knowing the problems directly by interacting with the people
Spread the love

आगरा। विधानसभा चुनाव 2022 को लेकर कांग्रेस पार्टी ने कवायदें करना शुरु कर दिया है। कांग्रेस पार्टी के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने जनसंपर्क करना शुरू कर दिया है तो वहीं यूपी कांग्रेस का विधानसभा चुनाव को लेकर तैयार होने वाले घोषणापत्र में भी आम व्यक्ति की राय और उसकी समस्या अंकित की जाए, इसको लेकर उत्तर प्रदेश चुनाव घोषणा पत्र समिति के सदस्य आगरा में लोगों की समस्याओं को जानने के लिए रूबरू हो रहे हैं।

उप्र चुनाव घोषणापत्र समिति के चेयरमैन पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद है। इस समिति के सदस्यगण राष्ट्रीय महासचिव पूर्व सांसद पी एल पुनिया, विधानमंडल दल नेता विधायक आराधना मिश्रा, राष्ट्रीय प्रवक्ता सुप्रिया सीनेट, राष्ट्रीय सचिव रोहित चौधरी अमिताभ दुबे, अतुल चतुर्वेदी शामिल हैं, जो शनिवार रात को ही आगरा पहुँच गए। अपने तय कार्यक्रम के अनुसार सलमान खुर्शीद फतेहाबाद क्षेत्र पहुंचे तो वहीं पीएल पुनिया दलित बस्तियों में दौरा कर रहे हैं जिससे हर वर्ग और हर समाज की समस्याओं को जानकर उन समस्याओं को एकत्रित कर कांग्रेस हाईकमान को सौंपा जा सके।

Congress UP election manifesto committee camped in Agra, knowing the problems directly by interacting with the people

उत्तर प्रदेश चुनाव घोषणा समिति के चेयरमैन सलमान खुर्शीद अपने समिति के कुछ सदस्यों को इस शाहगंज के फतेहाबाद रोड क्षेत्र में पहुंचे, जहां उन्होंने ग्रामीणों से वार्ता की और कुछ क्षेत्रों का भी दौरा किया। इस दौरान उन्होंने लोगों से खुलकर वार्ता की और उनकी समस्याओं को भी जाना। महिलाओं ने अपनी समस्याओं को सामने रखा तो वहीं लोगों ने क्षेत्र में किसी भी तरह का विकास न होने की बात कही। भ्रमण के दौरान अधूरे पड़े विकास कार्यों को लेकर सलमान खुर्शीद ने भी तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की।

प्रेस से रूबरू होते हुए सलमान खुर्शीद ने बताया कि समिति 2022 के विधानसभा चुनाव को लेकर लोगों से उनकी समस्याएं जान रही है और राय शुमारी कर रही है जिससे उनकी समस्याओं और मांगों को कांग्रेस अपने घोषणा पत्र में शामिल कर सके।

Related Articles