कहीं चमत्कार ना हो जाए खेरागढ़ में…क्या कहता है माहौल

आगरा। बात हो रही है नगर पंचायत चुनाव की। खेरागढ़ में नगर पंचायत चुनाव में चार प्रमुख हस्तियां मैदान में थी। पूर्व चेयरमैन अनिल गर्ग उर्फ़ अन्नी की दादी शांति देवी और भारतीय जनता पार्टी से सुधीर गर्ग उर्फ़ गुड्डू की पत्नी चुनाव मैदान में थी। यहां समाजवादी पार्टी से कोई प्रत्याशी नहीं था जबकि बसपा और कांग्रेस भी चुनाव मैदान में थी।

अभी चुनाव से कुछ दिन पहले ही प्रत्याशी शांति देवी के नाथी और पूर्व चेयरमैन अनिल गर्ग उर्फ़ अन्नीको पुलिस ने धोखाधड़ी के मामले में जेल भेजा। अन्नी के जेल जाने के बाद खेरागढ़ नगर पंचायत चेयरमैन का चुनाव और ज्यादा रोमांचक हो गया।

संभावना जताई जा रही थी कि चुनाव मैदान में डटी 90 साल की वृद्धा का हौसला टूट सकता है मगर अनिल गर्ग और अन्नी पूर्व चेयरमैन के जेल जाने के बाद यहां शांति देवी को लोगों की सहानभूति मिली।

चुनाव के दिन मुकाबला रोमांचक देखा गया। यहां दो लोगों के बीच कड़ी टक्कर बताई जा रही है। शांति देवी को भी अन्नी के जेल जाने के बाद लोगों की सहानुभूति और भरपूर समर्थन मिला है और अब प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला मतपेटियों पैक हो गया है जिसका इंतजार सभी को है। आगामी 1 दिसंबर को खेरागढ़ की जनता का फैसला सबके सामने होगा।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*