Home प्रदेश गांव ‘बाद’ में कन्या महाविद्यालय खोले जाने की मांग को लेकर पिछले 26 दिनों से धरने पर बैठे हैं ग्रामीण

गांव ‘बाद’ में कन्या महाविद्यालय खोले जाने की मांग को लेकर पिछले 26 दिनों से धरने पर बैठे हैं ग्रामीण

by admin
Villagers have been sitting on a dharna for the last 26 days demanding the opening of a girls' college in village 'Baad'
Spread the love

आगरा ग्वालियर रोड स्थित गांव बाद पर ग्रामीणों व क्षेत्र वासियों की तरफ से पिछले 26 दिनों से लगातार धरना जारी है। स्कूल फार्म की जगह में जिला पंचायत द्वारा विश्रामगृह बनाए जाने के विरोध में ग्रामीण लगातार धरना प्रदर्शन कर रहे हैं। उनका कहना है कि राजस्व विभाग में आज भी जमीन स्कूल फॉर्म के नाम से रजिस्टर्ड है। ग्रामीणों की मांग है कि स्कूल फार्म की जगह पर कन्या डिग्री कॉलेज या कन्या पाठशाला जैसी कोई संस्था खोली जाए। क्षेत्र के लोगों का कहना है कि ग्वालियर रोड पर कोई भी गर्ल्स महाविद्यालय नहीं है, क्षेत्र की बच्चियों को ग्रेजुएशन की पढ़ाई के लिए आगरा तक जाना पड़ता है। इसी मांग के लिए क्षेत्र के सैकड़ों लोग लगातार अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे हैं। इसके लिए जनप्रतिनिधियों से भी लगातार संपर्क किया जा रहा है।

आज भी ग्रामीणों का एक प्रतिनिधि मंडल जिला पंचायत अध्यक्ष के प्रतिनिधि डॉ राजेंद्र सिंह से मुलाकात करने के लिए पहुंचा। ग्रामीणों को डॉक्टर राजेंद्र की तरफ से आश्वासन मिला कि गांव बाद पर कन्या महाविद्यालय एवं गर्ल्स पैरामेडिकल कॉलेज बनाने के लिए जल्द ही कार्य शुरू करा दिया जाएगा। ग्रामीणों ने डॉ राजेंद्र सिंह के आश्वासन के बाद अपने धरने को समाप्त करने पर विचार की बात कही है।

इस दौरान कांग्रेस के पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष उपेंद्र सिंह भी किसानों से मिलने पहुंचे। उपेंद्र सिंह ने कहा कि ‘ग्रामीणों को जिला पंचायत अध्यक्ष के प्रतिनिधि डॉ राजेंद्र की तरफ से आश्वासन दिया गया है। अगर ग्रामीणों की मांग नहीं मानी जाती है तो इसके लिए आंदोलन किया जाएगा।’

इस दौरान रामपाल सिंह चाहर, मास्टर थान सिंह, मान सिंह, पूर्व प्रधान जल सिंह, पूर्व प्रधान बिसेरा लाखन सिंह, पूर्व ब्लाक प्रमुख विनोद प्रधान (गढ़ी उसरा) कृष्णकांत प्रधान (कुठावली), गौरव प्रधान (इटौरा) समेत क्षेत्र के कई प्रधान मौजूद रहे।

Related Articles