मादक पदार्थों की तस्करी करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह के दो तस्कर गिरफ़्तार, ढ़ाई कुंतल गांजा बरामद

आगरा। एसटीएफ और सैंया थाना पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। एसटीएफ व सैंया पुलिस ने मादक पदार्थों की तस्करी करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह के दो सक्रिय तस्करों को गिरफ्तार किया है। दोनों तस्करों से ढाई कुंतल गांजा बरामद किया है, साथ ही दो लग्जरी कार व दो तमंचे हुए बरामद हुए हैं। दोंनो तस्करों के खिलाफ कानूनी कार्यवाही कर जेल भेज दिया है। मादक पदार्थों की तस्करी करने वाले इस गैंग के तार धौलपुर से लेकर आंध्रप्रदेश तक जुड़े हुए हैं।

बताया जाता है कि पिछले कई दिनों से एसटीएफ उत्तर प्रदेश को सूचना मिल रही थी कि प्रदेश में मादक पदार्थो के सक्रिय अंतरराज्यीय गिरोह के तस्कर सक्रिय है जो प्रदेश में मादक पदार्थो की तस्करी करने में जुटे हुए है। इस सूचना पर आगरा एसटीएफ ने अपने मुखबिर तंत्र को सक्रिय किया। मादक पदार्थो के अंतरराज्यीय तस्करों की सूचना मिलने पर एसटीएफ आगरा ने थाना सैंया पुलिस से संपर्क किया और सैंया क्षेत्र में टीमों को लगा दिया। इस दौरान ग्राम तेहरा के पास लगी टीम को दो कार आती दिखाई दी। वाहनों को रोकने का प्रयास किया तो तस्करों ने कार को रोकने के बजाए तेजी के साथ भागना शुरू कर दिया।

पुलिस के मुताबिक दोनो वाहनों का पीछा किया गया तो तस्करों ने पुलिस टीम पर फायर कर दिये। इस घटना में एसटीएफ व क्षेत्रीय पुलिस बाल बाल बची और पीछा जारी रखा। पुलिस को पीछा करता देख दो तस्कर पीपल वाला घाट, बम्बा किनारा तेहरा पर गाड़ी से उतरकर भाग गए और दो गाड़ियों में रह गए। एसटीएफ व थाना पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया।

पकड़े गए दोनों युवक अंतरराज्यीय तस्कर गिरोह से जुड़े हुए है। गिरफ्तार हुए श्याम राठौर थाना ताजगंज का निवासी है तो नेत्रपाल सिंह थाना मथुरा रिफाइनरी का रहने वाला है तो वहैं4 फरार युवक ब्रजमोहन निवासी अम्बा पोरसा मुरैना और दिनेश कुमार नगला डींग थाना ताजगंज का रहने वाला है। पकड़े गए तस्करों से 258 किलो गांजा, रेनो कैप्चर और स्विफ्ट डिज़ायर, 315 बोर के दो तमंचे, चार जिंदा कारतूस, और 880 नगद बरामद किए है।

पुलिस द्वारा तस्करों से पूछताछ में पता चला है कि मादक पदार्थ गैंग का संचालन श्याम राठौर और नेत्रपाल सिंह द्वारा संयुक्त रूप से किया जाता है। पता चला है कि मादक पदार्थों को बृजमोहन निवासी अम्बा पोरसा से 10 लाख रुपये में खरीदा था। वह तस्करी के इस कार्य को पिछले 5 सालों से कर रहे है। बड़ी सप्लाई होने पर वो टुकड़ों में माल लिया करते थे जिसे अम्बा पोरसा धौलपुर से लाया करते थे। इतना ही नही बृजमोहन इस पूरे माल को आंध्र प्रदेश से खरीदता है।

पकड़े गए तस्करों ने बताया कि वो मादक पदार्थ को आगरा के राजाखेड़ा, शमसाबाद, बाह, मथुरा और कोसीकलां में सप्लाई करते है। माल अधिक होने पर बृजमोहन अपने साथियों के साथ गाड़ी को निकलवाने आया था। एसटीएफ व पुलिस ने पकड़े गए तस्करों के खिलाफ कानूनी कार्यवाही कर जेल भेज दिया है।

About admin 4158 Articles
मून ब्रेकिंग एक ऐसा न्यूज़ चैनल है जिसकी कोशिश हर ख़बर या घटना की जानकारी पूरी सत्यता के साथ और जल्द से जल्द आप तक पहुँचाने की है। मून ब्रेकिंग की शुरुआत सितम्बर 2017 से हुई है। मून ब्रेकिंग आपको नेट के जरिये देश-दुनिया, क्राइम, राजनीति, लाइफस्टाइल और मनोरंजन आदि से जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध करायेगा। साथ ही किसी घटना पर प्रतिक्रिया देने या आपकी आवाज़ बुलंद करने के लिए मून ब्रेकिंग एक साझा मंच भी प्रदान करता है।