Home agra आगरा में सांप को पकड़ने गए संत को सांप ने डसा, सांप के काटने का करते थे इलाज

आगरा में सांप को पकड़ने गए संत को सांप ने डसा, सांप के काटने का करते थे इलाज

by admin
Snake bitten the saint who went to catch the snake in Agra, used to treat snake bites

आगरा। आगरा में सांप को पकड़ने गए संत को सांप ने डसा। सांप के काटने का करते थे इलाज। अस्पताल में घोषित किया मृत।

पिनाहट क्षेत्र के अंतर्गत गांव जोर में एक घर में निकले काले सांप को पकड़ने पहुंचे संत को सांप ने तीन जगह डस लिया। गंभीर स्थिति होने पर ग्रामीणों ने इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया, जहां चिकित्सकों ने संत बाबा को मृत घोषित कर दिया।

जानकारी के अनुसार ब्लॉक पिनाहट क्षेत्र के अंतर्गत गांव कांकर स्थित प्राचीन झंगोला वाली माता मंदिर आश्रम पर बीते करीब 15 वर्ष से महंत संत राघवानंद जी महाराज उम्र करीब 50 वर्ष रह रहे थे। जोकि कई प्रकार की जड़ी बूटियों एवं बीमारियों की दवा के बारे में जानते थे।

ग्रामीणों के अनुसार बाबा संत सांप काटने पर लोगों का इलाज कर ठीक करते और सांपों को पकड़ने में परिपूर्ण थे। शनिवार की देर शाम गांव जोर के दौजीराम के घर में एक विशाल काला सांप निकलने से हड़कंप मच गया। जिसे लेकर ग्रामीणों ने सांप को पकड़ने के लिए संत राघवानंद को मंदिर आश्रम से बुलाया।

गांव में सांप को पकड़ने के लिए महंत पहुंचे और उन्होंने सांप को पकड़ा। जिस पर उसने संत को काट लिया। मगर उन्होंने जड़ी बूटी सूंघकर दोबारा से सांप को पकड़ लिया। जिस पर उसने दो जगह और संत को काट दिया।

जहरीले सांप के काटने से संत बेहोश हो गए। पकड़े हुए सांप को ग्रामीणों ने लाठी-डंडे लेकर मौत के घाट उतार दिया। और तत्काल संत को गंभीर अवस्था में इलाज के लिए पिनाहट सीएचसी लेकर पहुंचे।

जहां से चिकित्सकों द्वारा संत को गंभीर अवस्था में हायर सेंटर आगरा के लिए रेफर कर दिया। आगरा अस्पताल में पहुंचने पर चिकित्सकों ने संत को मृत घोषित कर दिया। संत की अचानक हुई मौत से ग्रामीणों में शोक की लहर दौड़ गई। रविवार को मृतक हुए संत राघवानंद का ग्रामीणों और संतों द्वारा विमान निकालकर गांव मंदिर की परिक्रमा कराई गई उसके बाद संत को विधिवत समाधि दी गई।

Related Articles

Leave a Comment

%d bloggers like this: