सीएम योगी ने किया महामना गौ ग्राम का भूमि पूजन

मथुरा। सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने रविवार को वृंदावन में आयोजित हुए कार्यक्रम हासानंद गौशाला में महामना गौग्राम में शिरकत की। इस कार्यक्रम में शिरकत कर सूबे के मुखिया ने महामना गौ ग्राम का भूमि पूजन किया और इसके बाद हवन में शामिल हुए। इस दौरान सीएम ने गौ पूजन भी किया।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने कहा कि आज हमें गौ, गंगा और गांव बचाने की अत्यधिक आवश्यकता है। सरकार इन तीनों को बचाने का प्रयास कर रही है। गायों के संरक्षण व संवर्धन के लिए प्रदेश सरकार योजना बना रही है। इस पुनीत कार्य में भागीदारी के लिए समाज को भी आगे आना चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार की गौ संवर्धन योजना में प्रत्येक जिले में गौशाला का निर्माण कराया जाएगा, जिसमें देशी नस्ल की गायों का संरक्षण किया जाएगा। प्रदेश सरकार किसानों को देसी नस्ल की दो-दो गायें देने की भी योजना पर काम कर रही है।

उन्होंने कहा कि जब से प्रदेश में भाजपा की सरकार आई है तब से गौकसी पर रोक लगी है। उन्होंने समाज से अपील की कि गौ संवर्धन के लिए सरकार का साथ दे। सीएम योगी ने कहा कि गौमूत्र लाभकारी है। गाय के गोबर से जैविक खाद बने और पंचगव्य का प्रचार प्रसार हो। 

इस मौके पर आयोजकों ने महामना गौग्राम योजना के बारे में जानकारी दी। उन्हें अवगत कराया कि हासानंद गौचर भूमि न्यास द्वारा गायों का संवर्धन किया जाएगा। यहां देशी नस्ल की 2000 गायों का पालन होगा। इस कार्य के लिए बने न्यास में बिड़ला समेत अन्य उद्योगपतियों का भी सहयोग है। यहां गो दूध, दुग्ध उत्पाद व मूत्र, गोबर आदि से बनने वाले पदार्थों की दिल्ली व अन्य महानगरों में सप्लाई की जाएगी। साथ ही वृन्दावन के आसपास के 108 गांवों का विकास भी कराए जाने की योजना है। 

About admin 4807 Articles
मून ब्रेकिंग एक ऐसा न्यूज़ चैनल है जिसकी कोशिश हर ख़बर या घटना की जानकारी पूरी सत्यता के साथ और जल्द से जल्द आप तक पहुँचाने की है। मून ब्रेकिंग की शुरुआत सितम्बर 2017 से हुई है। मून ब्रेकिंग आपको नेट के जरिये देश-दुनिया, क्राइम, राजनीति, लाइफस्टाइल और मनोरंजन आदि से जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध करायेगा। साथ ही किसी घटना पर प्रतिक्रिया देने या आपकी आवाज़ बुलंद करने के लिए मून ब्रेकिंग एक साझा मंच भी प्रदान करता है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*