Home आगरा आसपास श्री केशव धाम, वृंदावन में विश्व कल्याण मिशन ट्रस्ट की भागवत कथा शुरू

श्री केशव धाम, वृंदावन में विश्व कल्याण मिशन ट्रस्ट की भागवत कथा शुरू

by admin
Bhagwat Katha of World Welfare Mission Trust started in Shri Keshav Dham, Vrindavan

मथुरा। विश्व कल्याण मिशन ट्रस्ट, हरिद्वार द्वारा आयोजित पंडित दीनदयाल उपाध्याय अध्ययन केंद्र, केशव धाम, रुकमणी बिहार, बृंदावन में चल रही श्रीमद्भागवत कथा के प्रथम दिवस में संत चिन्मयानंद बापू ने कहा कि श्रीमद् भागवत कथा ही एकमात्र ऐसी कथा है जिसके अंदर जीवित व्यक्ति के साथ साथ मरे हुए व्यक्ति को भी मुक्त करने का सामर्थ्य है। कोई भी व्यक्ति कितना भी पाप किया हो, जीवन भर कितने भी गलत कार्यों में लिप्त रहा हो, ऐसे व्यक्ति की मृत्यु के पश्चात यदि उसके नाम से श्रीमद्भागवत कथा कर दी जाए तो वह भी मुक्त हो जाता है।

चिन्मयानंद बापू ने कहा कि भागवत कथा के अंदर गोकर्ण धुंधकारी संवाद में हमें यही बताया गया कि जीवन भर धुंधकारी ने पाप किया और बाद में गोकर्ण ऋषि ने उनके नाम से श्रीमद् भागवत कथा का गान किया और वह मुक्त हुए।

चिन्मयानंद ने कहा कि जहां पर भागवत कथा होती है वहां पर उस समय सभी तीर्थ, सभी नदियों के आस-पास सभी देवता विचरण करते हैं। श्रीमद् भागवत कथा कल्पतरू की तरह है जिसकी शरण में बैठने पर हमारी सारी मनोकामनाएं भागवत कथा पूर्ण करती है।

चिन्मयानंद बापू ने कहा कि भागवत कथा में जो व्यक्ति जिस मंशा के साथ बैठता है, उसकी सारी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं लेकिन व्यक्ति की भावना पवित्र हो और संसार के मंगल की कामना उसके मन में हो। ऐसे व्यक्ति की मनोकामना भागवत कथा से पूर्ण होती है।

चिन्मयानंद बापू ने प्रसंग सुनाते हुए कहा कि भागवत कथा में ऐसा सामर्थ्य है कि भक्ति मैया के दोनों पुत्र ज्ञान वैराग्य वृंदावन की भूमि पर वृद्ध हो गए थे लेकिन जब श्रीमद् भागवत कथा का ज्ञान नारद जी ने सनकादिक ऋषियों से कराया तो वृंदावन की धरा पर जो ज्ञान वैराग्य वृद्ध हो गए थे वह भी चेतन अवस्था में आकर नृत्य गान करने लगे और उनके साथ भक्ति मैया भी नृत्य करने लगीं।

कथा के शुभारंभ में वृंदावन की धरा के सुप्रसिद्ध संत अनुराग कृष्ण शास्त्री एवं संजीव कृष्ण ठाकुर उपस्थित हुए। उन्होंने भी अपना आशीर्वचन दूर-दूर से पधारे सभी भक्तों को दिया। कथा के प्रथम दिन ही पूरा प्रांगण श्रोताओं से खचाखच भर गया।

Related Articles

Leave a Comment

%d bloggers like this: