डब्ल्यूएचओ ने दी चेतावनी, कोरोनाकाल‌ का दूसरा साल भी हो सकता है पहले साल से ज्यादा व्यापक

WHO warns, second year of coronary period may also be wider than first year

विश्व भर में कोरोना संक्रमण के मामले घटने से हर देश के स्वास्थ्य विभाग ने कुछ हद तक राहत महसूस की है। इसके साथ ही अब कई देशों में वैक्सीनेशन भी शुरू हो चुका है। भारत उन देशों में से एक है जहां 16 जनवरी से टीकाकरण शुरू होने जा रहा है। भारत ने इससे पहले ड्राई रन के माध्यम से वैक्सीनेशन की सभी तैयारियां पूरी कर ली थी ताकि वास्तविक वैक्सीनेशन के दौरान किसी प्रकार की कोई कमियां न रह जाएं। फिलहाल दिल्ली से वैक्सीन को देश के‌ अलग अलग हिस्सों तक भेजा जा रहा है और कई राज्यों तक वैक्सीन पहुंच भी चुकी हैं।अब विभिन्न शहरों में वैक्सीन पहुंचाई जा रही है। इन सभी कवायदों के बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कहा है कि कोरोना महामारी का दूसरा साल पहले साल की तुलना में और भी अधिक व्यापक हो सकता है।

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (WHO) हेल्थ इमर्जेंसी प्रोग्राम के एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर माइकल रेयान ने कहा कि कोरोनो वायरस महामारी का दूसरा साल ट्रांसमिशन डायनामिक्स पर पहले की अपेक्षा और भी मुश्किल हो सकता है।रेयान ने बुधवार देर शाम WHO के सवाल-जवाब सत्र के दौरान कहा, “हम दूसरे वर्ष में जा रहे हैं, यह ट्रांसमिशन डायनेमिक्स और कुछ मुद्दों को देखते हुए कठिन हो सकता है।”

वहीं जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक विश्व स्वास्थ्य संगठन ने 11 मार्च को COVID-19 के प्रकोप को एक महामारी घोषित कर दिया था । अब तक दुनिया में तकरीबन 9.21 करोड़ से ज्यादा लोग कोरोना की चपेट में आ चुके हैं और इनमें से तकरीबन 19.7 लाख मरीजों की स्थिति बहुत गंभीर है।

About admin 5514 Articles
मून ब्रेकिंग एक ऐसा न्यूज़ चैनल है जिसकी कोशिश हर ख़बर या घटना की जानकारी पूरी सत्यता के साथ और जल्द से जल्द आप तक पहुँचाने की है। मून ब्रेकिंग की शुरुआत सितम्बर 2017 से हुई है। मून ब्रेकिंग आपको नेट के जरिये देश-दुनिया, क्राइम, राजनीति, लाइफस्टाइल और मनोरंजन आदि से जुड़ी पूरी जानकारी उपलब्ध करायेगा। साथ ही किसी घटना पर प्रतिक्रिया देने या आपकी आवाज़ बुलंद करने के लिए मून ब्रेकिंग एक साझा मंच भी प्रदान करता है।