Home प्रशासन ‘व्हाट्सएप मैसेज करो, पौधा सहित गमला लो’ – आगरा महापौर नवीन जैन

‘व्हाट्सएप मैसेज करो, पौधा सहित गमला लो’ – आगरा महापौर नवीन जैन

by admin
'Whatsapp message, take a pot with a plant' - Agra Mayor Naveen Jain
Spread the love

आगरा। पूरे भारत में आगरा शहर सर्वाधिक 20 प्रदूषित शहरों की सूची में आने और शहर में बढ़ते हुए प्रदूषण की गंभीर समस्या को लेकर महापौर नवीन जैन विचलित हुए। तभी से ही इस शहर में प्रदूषण नियंत्रित करने, शहर को हरा-भरा बनाने की दृष्टि से और नगर निगम के साथ-साथ शहर के नागरिकों को जोड़कर उनका सहयोग लेकर महापौर कोई न कोई अभियान छेड़ते रहते हैं। इसी क्रम में अब महापौर आगरा ने ‘व्हाट्सएप करो, गमलेदार पौधा लो’ अभियान की शुरुआत की है।

आगरा को प्रदूषण मुक्त बनाने के लिए आगामी योजना में लगभग 7500 पौधे ट्री गार्ड के साथ और 11,000 पौधे गमलों के साथ पूरे आगरा शहर में लगाए जाएंगे।

नगर निगम में आयोजित प्रेस वार्ता में जानकारी देते हुए महापौर नवीन जैन ने बताया कि जिन स्थानों पर वृक्षारोपण संभव नहीं है, पक्की सड़क व गालियां बनी हुईं हैं अब उन स्थानों पर नगर निगम द्वारा सीमेंट के गमले सहित पौधे लगाए जाने की योजना की शुरुआत की जा रही है। इसके लिए शहर भर में पौधा सहित गमला वितरण कार्यक्रम 15 सितंबर से शुरू किया जा रहा है। इन गमलों में विभिन्न प्रजातियों के पौधे लगाए जाएंगे।

महापौर नवीन जैन ने बताया कि ‘हर घर पौधा, घर-घर पौधा’ अभियान के अंतर्गत गमला सहित पौधा वितरण का यह कार्यक्रम पूरी तरह से आगरा शहर की जनता को समर्पित रहेगा। शहरवासी 4 सितंबर से नगर निगम के मोबाइल नंबर 8430457844 पर सुबह 11:00 बजे से दोपहर 2:00 बजे तक उक्त व्हाट्सएप नंबर पर मैसेज कर गमले की मांग कर सकते हैं। इसके लिए मांगकर्ता को अपना फोन नंबर, घर का पता इत्यादि उक्त व्हाट्सएप नंबर पर भेजना होगा। इसके साथ ही स्वलिखित एक शपथ पत्र भी व्हाट्सएप करना होगा जिसका प्रारूप इस प्रकार है।

Do WhatsApp, take a pot with a plant - Agar Mayor Naveen Jain

महापौर ने बताया यह बड़े गमले शहर के सभी बाजार कमेटी, अपार्टमेंट, गेट बंद कॉलोनी, सामाजिक संस्थाओं, स्कूल-कॉलेज, प्राइवेट एवं सरकारी संस्थान, धार्मिक स्थल, अस्पताल एवं नर्सिंग होम, बड़े शॉपिंग मॉल, व्यवसायिक स्थल, कॉलोनियों, प्रमुख बाजार, रेस्टोरेंट के बाहरी स्थल के अलावा बस स्टैंड और रेलवे स्टेशन के आसपास भी रखे जाएंगे। यह पौधा वितरण कार्यक्रम ‘पहले आओ पहले पाओ’ के आधार पर किया जाएगा। पौधों को लगाने, उनकी निराई – गुड़ाई आदि का कार्य नगर निगम द्वारा किया जाएगा।

इन बड़े गमलों में जो पौधे लगाए जाएंगे उसमें एरीका पाम, रैफिश पाम, वाशिंग टोनिया पाम, फॉनिक्श पाम, लैविश टोनिया पाम, फॉक्सटेल पाम, पल्यूमेरिया एल्वा, पल्यूमेरिया एक्यूटीफोलिया, हैविकस, टिकोमा गाडीचुड़ी, टिकोमा स्टेन्स, कैलिएंड्रा, विभिन्न प्रजातियों की वोगनविलिया, ऐग्जोरा परवीफ्लोरा, मनी प्लान्ट, ऑक्शीकोडियम, सिंगोनियम, लैमनग्रास, एलोवेरा, अश्वगंधा, अशोक पेन्डुला गार्डिनिया, डबल चाँदनी, मोतिया, मोगरा, अकलीफा, ड्राईसीना, बारहमासी नीबू, चाइना ऑरेन्ज, अनार आदि प्रजाति के पौधे होंगे।

प्रेस वार्ता के मौके पर अपर नगर आयुक्त विनोद कुमार गुप्ता, अधिशासी अभियंता अजीत कुमार, उद्यान निदेशक पी एस सिसोदिया आदि मौजूद रहे।

Related Articles