ताजमहल के पास का तोरा गाँव आज भी देख रहा है विकास की राह

आगरा। प्रदेश में तमाम सरकारें बदल चुकी है लेकिन ताजमहल से एक किलोमीटर की दूरी पर स्थित तोरा गांव की तस्वीर आज तक नहीं बदल पायी है। ताजमहल को देखने के लिए आने वाले पर्यटक ताज निहारने के साथ साथ उसके आसपास के क्षेत्र का भी पैदल घूम भ्रमण करते है। पर्यटकों के गांव में आने पर तोरा गांव के ग्रामीण भी शर्मिंदा हो जाते है। इसके वाबजूद भी प्रशासन और सरकार को कोई शर्म नहीं आती है।

आपको बताते चलें कि प्रशासन की अनदेखी के चलते तोरा गांव के वाशिंदे आज भी नारकीय जीवन जीने को मजबूर है। तोरा गांव आज भी विकास की राह देख रहा है। क्षेत्र में चारों ओर जलभराव हो रखा है। निकलने के लिए सुगम मार्ग नहीं है और जलनिकासी की कोई व्यवस्था ना होने के कारण लोग जलभराव की समस्या से जूझ रहे हैं।

इस गांव के लोगों से जब वार्ता हुई तो उनका आक्रोश क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों और प्रशासन पर फूट गया। क्षेत्र की महिलाओं का कहना था कि कई दशकों से वो यहाँ पर रह रही है लेकिन विकास के नाम पर कुछ भी नहीं है। जबकि ताजमहल इस क्षेत्र से एक किलो मीटर दूर है।

फिलहाल क्षेत्रीय लोगों ने साफ़ कर दिया है कि अगर इस क्षेत्र का विकास नहीं हुआ और व्याप्त समस्याओं का निस्तारण नहीं हुआ तो आंदोलन होगा।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*